ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार गयागया-हावड़ा एक्सप्रेस पकड़ने जा रही महिला यात्री हुईं बेहोश

गया-हावड़ा एक्सप्रेस पकड़ने जा रही महिला यात्री हुईं बेहोश

-सुविधा विहीन प्लेटफार्म पर गया-हावड़ा एक्सप्रेस को खड़ा किए जाने से यात्री हो...

गया-हावड़ा एक्सप्रेस पकड़ने जा रही महिला यात्री हुईं बेहोश
हिन्दुस्तान टीम,गयाWed, 12 Jun 2024 09:00 PM
ऐप पर पढ़ें

गया-हावड़ा एक्सप्रेस में सफर के लिए ट्रेन पकड़ने जा रही एक महिला यात्री तेज धूप से प्लेटफार्म पर ही बेहोश होकर गिर गई। इस कारण महिला व उसकी मां को ट्रेन छोड़नी पड़ी। हालांकि घटना की सूचना पर गया स्टेशन अधीक्षक उमेश कुमार व मुख्य वाणिज्य पर्यवेक्षक लोकेश कुमार के प्रयास से बाद दूसरी ट्रेन से दोनों महिला यात्रियों को गंतव्य तक पहुंचवाने की व्यवस्था की गई।
बताया गया कि शहर के बोधगया एयरपोर्ट रोड की रहने वाली श्वेता कुमारी नामक महिला अपनी मां के साथ बुधवार को गया-हावड़ा एक्सप्रेस से भागलपुर जाने वाली थी। चार नंबर प्लेटफार्म पर ट्रेन का इंतजार कर रही थीं। ट्रेन को प्लेटफार्म पर नहीं देख पूछताछ में उन्हें पता चला कि पिलग्रिम प्लेटफार्म से ट्रेन जाएगी। जल्दवाजी करते हुए भागे-भागे ट्रेन चढ़ने पिलग्रिम प्लेटफार्म से आगे बढ़ रही थीं। चिलचिलाती धूप व तेज गर्मी के बीच महिला यात्री बेहोश होकर प्लेटफार्म पर गिर गईं। अपने साथियों को ट्रेन चढ़ाने आए कुछ युवक स्थिति को देखी और तत्काल महिला यात्री को बगल के नीम के पेड़ की छांव में लिटाया और कंट्रक्शन कंपनी के कर्मी से दो बोतल पानी लेकर महिला को होश में लाने का प्रयास किया। महिला के होश आने पर उन्हें ओआरएस का घोल पिलाया गया। स्थिति में सुधार होने के बाद उसे दूसरी ट्रेन से भागलपुर भेजा गया।

दैनिक रेल यात्री संघ के नेता उदय श्रीवास्तव, रवि रंजन प्रसाद, सामाजिक कार्यकर्ता सतेंद्र प्रसाद यादव ने कहा कि गया जंक्शन के सुविधा विहीन पिलग्रिम प्लेटफार्म से इन दिनों गया-हावड़ा एक्सप्रेस का परिचालन कराया जाना चिंता का विषय है। यहां पर एक भी यात्री शेड नहीं है और पानी की भी व्यवस्था नहीं है। इस भीषण गर्मी व चिलचिलाती धूप में गया-हावड़ा एक्सप्रेस को सुविधा विहीन व स्टेशन से कुछ दूरी पर सबसे किनारे भाग में स्थित पिलग्रिम प्लेटफार्म पर खड़ा किये जाने से आए दिन यात्री काफी बेहाल हो रहे हैं। इस संबंध में रेल प्रशासन को अवगत कराए जाने के बावजूद स्थिति में सुधार नहीं हो रहा है। उन्होंने रेल मंत्रालय से मांग की है कि ट्रेन आने के बाद परिचालन तक इस प्लेटफार्म पर रेल अधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की जाए ताकि व्यवस्था का सीधे वे मॉनिटरिंग कर सकें और यात्रियों, ऑन ड्यूटी कर्मियों व टीटीई को जो परेशानी झेलनी पड़ रही है उससे शायद उन्हें एहसास हो सके।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
Advertisement