DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उठाव समाप्त होने के बाद गोदाम में मिला 82 क्विंटल अनाज

बोधगया में राज्य खाद्य निगम (एसएफसी) के गोदाम का बुधवार को सदर एसडीओ सूरज सिन्हा ने औचक निरीक्षण किया। जिसमें कई खामियां देखने को मिली। मई माह का अनाज उठाव मंगलवार को समाप्त हो चुका है। इसके बाद भी गोदाम में गेहूं व चावल पाया गया। एसडीओ ने गोदाम प्रबंधक दयानंद जसवाल से जब स्टॉक पंजी की मांग की तो वह ऑन स्पॉट नहीं उपलब्ध करा सके। कार्यालय में कंप्यूटर व इंटरनेट तक की व्यवस्था नहीं है। ताकि उसका ऑनलाइन मॉनिटरिंग किया जा सके। गोदाम के इस लचर व्यवस्था को देख एसडीओ भड़क उठे और लेखापाल को निर्देश दिया कि कार्यालय में कंप्यूटर व इंटरनेट का तुरंत व्यवस्था कराएं। एसडीओ ने बताया कि डीलरों द्वारा आये दिन शिकायत की जाती है कि गोदाम से आवंटन के मुताबिक कम अनाज तौल में मिलता है। इससे वितरण में परेशानी होती है। डीलरों का यह आरोप जांच में सही पाया गया है। चुकी मई माह का उठाव बंद होने के बाद भी गोदाम में 61 क्विंटल गेहूं तथा 21 क्विंटल चावल पाया गया। बोधगया गोदाम का प्रत्येक माह गेहूं व चावल का आवंटन 66 सौ क्विंटल है। स्थिति यह है कि अनाज को तौलने के लिए इलेक्ट्रॉनिक तराजू तो है, लेकिन बिजली की व्यवस्था नहीं रहने के कारण वह बंद रहता है। गोदाम पर बिजली कनेक्शन लेने का भी निर्देश दिया गया है। एसडीओ ने कहा कि जांच में पाये गये अनियमितता को लेकर गोदाम प्रबंधक से स्पष्टीकरण पूछा जायेगा। इसके साथ ही विभागीय कारवाई के लिए संबंधित पदाधिकारी को पत्र लिखा जायेगा। जांच के दौरान बीडीओ विनोद कुमार व एमओ सुधीर ठाकुर मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:82 quintals of grain found in the warehouse after the end of the uprising