ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार दरभंगा नवजात बच्ची को मुक्त कराने का किया आग्रह

नवजात बच्ची को मुक्त कराने का किया आग्रह

दरभंगा | जिला बाल संरक्षण इकाई की सहायक निदेशक नेहा नूपुर ने एसएसपी बाबू राम


नवजात बच्ची को मुक्त कराने का किया आग्रह
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,दरभंगाSun, 27 Jun 2021 03:33 AM

दरभंगा | जिला बाल संरक्षण इकाई की सहायक निदेशक नेहा नूपुर ने एसएसपी बाबू राम से से बहेड़ी थाना अंतर्गत नवजात परित्यक्त बच्ची को मुक्त कराने का आग्रह किया है। उन्होंने एसएसपी को प्रेषित पत्र में कहा है कि महुआ मइन गांव में एक परिवार द्वारा एक नवजात परित्यक्त बच्ची को गैरकानूनी तरीके से अपने संरक्षण में रख लिया गया है जिसे बहेड़ी पुलिस के माध्यम से रेस्क्यू कराते हुए बाल कल्याण समिति, दरभंगा के समक्ष उपस्थित कराया जाए। बता दें कि आपके अखबार ‘हिन्दुस्तान ने गत 24 जून के अपने अंक में इस मामले को प्रमुखता से प्रकाशित किया था। खबर प्रकाशित होने के बाद सहायक निदेशक, जिला बाल संरक्षण इकाई के संज्ञान में आते ही उन्होंने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए एसएसपी से नवजात परित्यक्त बच्ची को मुक्त कराने हेतु अनुरोध पत्र लिखा है। घटना के संबंध में चाइल्डलाइन का कहना है कि बहेड़ी थानान्तर्गत महुआ मईन गांव के नि:सन्तान दम्पती मिथिलेश मुखिया एवं उषा देवी द्वारा गत सोमवार को स्थानीय चौक के पास सड़क से एक परित्यक्त नवजात को अवैध रूप से गोद लिया गया। इसकी सूचना मिलने पर मंगलवार को स्थानीय चाइल्डलाइन एवं पुलिस द्वारा उन्हें कानूनी रूप से नवजात को गोद लेने की प्रक्रिया समझायी गयी। उन्हें बताया गया कि विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान द्वारा बच्चे को लेने के लिए बच्चे को बाल कल्याण समिति में उपस्थापन कराकर उसे विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान में भेजा जाना आवश्यक होता है। नि:संतान दम्पती को इस प्रक्रिया को अपनाने की बात कही गई। इसका नि:संतान परिवार के साथ आसपास के दर्जनों लोग विरोध करने लगे। भीड़ की दलील के कारण मामले की उग्रता को देखते हुए स्थानीय पुलिस और चाइल्डलाइन के लोग वापस लौट गए। इसके बाद गत बुधवार को चाइल्डलाइन के नोडल सह जिला समन्वयक रवींद्र कुमार की अध्यक्षता एवं केन्द्र समन्वयक आराधना कुमारी के संचालन में चाइल्डलाइन जिला केंद्र कार्यालय में विशेष आपातकालीन बैठक भी हुई थी।

epaper