DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › दरभंगा › नयी पद्धति से छात्र-छात्राओं को रिजल्ट में हुआ लाभ
दरभंगा

नयी पद्धति से छात्र-छात्राओं को रिजल्ट में हुआ लाभ

हिन्दुस्तान टीम,दरभंगाPublished By: Newswrap
Sat, 31 Jul 2021 04:11 AM


नयी पद्धति से छात्र-छात्राओं को रिजल्ट में हुआ लाभ

दरभंगा। सीबीएसई की ओर से इस साल लागू की गयी नयी पद्धति से जिले के छात्र-छात्राओं को काफी लाभ हुआ है। पास करने वाले विद्यार्थियों की संख्या का प्रतिशत बढ़ गया है। वर्ष 2019 में 12वीं में पास करने वाले बच्चों का प्रतिशत लगभग 78 था जो 2020 में बढ़कर 89 के पास पहुंच गया। इस साल यह संख्या 95 फीसदी से भी अधिक है। इस बार सभी स्कूलों को पिछले बैच के अंकों के औसत को कायम रखना था इसीलिए औसत न तो बढ़ा और न घटा है। इस बार देखा गया है कि जिन छात्रों के 10वीं कक्षा में बहुत अच्छे अंक थे उनके भी 12वीं में अंक इतने अच्छे नहीं आ पाए। इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि अगर किसी छात्र के बहुत अच्छे अंक आ रहे थे लेकिन अगर स्कूल के पुराने बैच का औसत खराब था तो उसके प्राप्तांक को सीबीएसई द्वारा डाउनस्केल कर नीचे गिराया गया है। कुल मिलाकर यह कहा जा सकता है कि जिन स्कूलों का प्रदर्शन पिछले तीन सालों में लगातार बहुत अच्छा रहा है उन स्कूलों के 2021 बैच को बहुत फायदा हुआ है। कुछ असंतुष्ट छात्र-छात्राएं फिर से विषय विशेष में परीक्षा देने का मन बना रहे हैं। हालांकि रिजल्ट आने के तुरंत बाद भावनात्मक आवेग बहुत अधिक होता है। कुछ समय बीत जाने के बाद हो सकता है कि छात्र और अभिभावक इस पर व्यावहारिक दृष्टिकोण से विचार करें और फिर किसी निर्णय पर पहुंचें। विशेषज्ञों का कहना है कि दरभंगा जिले में 80 फीसदी से अधिक छात्र विज्ञान के होते हैं जहां उच्च शिक्षा के लिए संस्थानों में दाखिले की अलग से परीक्षा होती है। इसीलिए अधिकतर मामलों में परिणाम का बहुत नकारात्मक असर नहीं पड़ना चाहिए।

संबंधित खबरें