DA Image
8 अगस्त, 2020|5:35|IST

अगली स्टोरी

रिक्शा चलाकर नौ दिनों में दिल्ली से घर पहुंचा मो. कुद्दुस

default image

चन्दनपट्टी गांव के मो. कुद्दुस सब्जी बेचने वाला ठेला लेकर दिल्ली से नौ दिनों में दरभंगा पहुंच गया। वह 29 अप्रैल की रात अपने गांव चन्दनपट्टी पहुंचा। वहां से उसे रात में ही आनंदपुर हाईस्कूल के प्लस टू के लिए नवनिर्मित भवन में बने क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती करा दिया। चन्दनपट्टी पंचायत के वार्ड संख्या-आठ के निवासी मो. कुद्दुस ने बताया कि वह करीब डेढ़ माह पूर्व दिल्ली गया था। वह दिल्ली के जकीरा अमरपारा में रहता था। दिल्ली पहुंचने के कुछ दिन बाद ही लॉकडाउन शुरू हो गया। वह कूलर का मिस्त्री है। लॉकडाउन लागू होने के बाद वह आजादपुर मंडी से लहसुन-प्याज बेचने लगा। दिल्ली का आधार कार्ड नहीं रहने के कारण पुलिस उसे तंग करने लगी। बकौल कुद्दुस पुलिस का कहना था कि जिसका आधार कार्ड दिल्ली का होगा वही सब्जी बेचेगा। थक-हारकर उसने 21 अप्रैल की अहले सुबहअपना सब्जी वाला ठेला लेकर ही अपने घर चल दिया। किसी तरह वह 29 अप्रैल की रात करीब नौ बजे अपने गांव पहुंचा। उसके गांव पहुंचते ही लोगों की भीड़ जुट गई। लोगों ने इसकी सूचना अधिकारियों को दी। सीओ कमल प्रसाद साह ने बताया कि ग्रामीणों से सूचना मिलने पर रात में ही उसे पतोर पुलिस की सहायता से क्वारंटाइन सेंटर में भर्ती करा दिया गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Rickshaw arrived home from Delhi in nine days Pumpkin