DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कमेटी गठन का किया विरोध

ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के कुलपति ने सीएम कालेज के हिन्दी विभागाध्यक्ष डा. ब्रह्मदेव प्रसाद कार्यी एवं विश्वविद्यालय हिन्दी विभागाध्यक्ष डा. रामचंद्र ठाकुर के बीच वरीयता निर्धारण के लिये तीन सदस्यीय कमेटी गठित कर दी है। कमेटी में वाणिज्य संकायाध्यक्ष डा. एके सिंह, केएस कालेज के प्रधानाचार्य डा. सीबी सिंह तथा कालेज निरीक्षक (कला एवं वाणिज्य) शामिल हैं। इधर डा. कार्य ने डा. एके सिंह को सदस्य बनाये जाने पर कड़ी आपत्ति जतायी है। उन्होंने कहा कि कुलसचिव के रुप में डा. सिंह ने उन्हें कनीय घोषित कर डा. ठाकुर को विश्वविद्यालय विभागाध्यक्ष बना दिया, अब कमेटी में रहकर वे न्याय नहीं कर सकते हैं। इस आशय का पत्र डा. कार्यी ने कुलपति को लिखी है। डा. कार्यी 30 जून को सेवानिवृत्त होने वाले हैं। उन्होंने चेतावनी दी कि जरुरत पड़ने पर वे लोकायुक्त, अपराध अनुसंधान ब्यूरो तथा निगरानी जांच विभाग में आवेदन कर सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Opposed to the formation of committee