DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तीन में से किसी एक विषय में देनी होगी परीक्षा

तीन में से किसी एक विषय में देनी होगी परीक्षा

लनामि विवि के स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर के छात्रों को कौशल संवर्धन पाठ्यक्रम (एसईसी) क्वालीफाइंग विषय के अंतर्गत तीन विकल्पों में से किसी एक विषय में परीक्षा देने होंगे।

छात्र कल्याण अध्यक्ष प्रो. रतन कुमार चौधरी ने बताया कि विश्वविद्यालय में वर्तमान सत्र में इस कोर्स के लिए तीन विषयों यथा इनवायरमेंटल लॉ, कंप्यूटर एंड आईटी स्किल एवं योगा स्टडीज की स्वीकृति विद्वत परिषद से प्राप्त हुई थी। तीनों विषयों की 50 अंकों की सीआईए की परीक्षा विभागों द्वारा ले ली गई है। 50 अंकों की सत्रांत परीक्षा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित की जाएगी।

सत्रांत परीक्षा में इनवायरमेंटल लॉ एवं कंप्यूटर एंड आईटी स्किल के प्रश्नों के प्रारूप एवं अंकों का निर्धारण प्रथम सेमेस्टर के एआईसीसी-1 की तरह ही होंगे। परंतु योगा स्टडीज के पाठ्यक्रम तीन यूनिट सैद्धांतिक एवं दो यूनिट प्रायोगिक से संबंधित है। जो छात्र-छात्राएं एसईसी के अंतर्गत योगा- स्टडीज विषय का चयन किए हैं, उन्हें 35 अंकों के सत्रांत सैद्धांतिक एवं 15 अंकों के सत्रांत प्रायोगिक परीक्षा देनी होगी। सैद्धांतिक विषयों में कुल तीन खंड होंगे। पहले खंड ए में दो- दो अंकों के पांच वस्तुनिष्ठ प्रश्न होंगे जिनमें सभी प्रश्नों के उत्तर देने होंगे। दूसरे खंड बी में तीन-तीन अंकों के छह लघु उत्तरीय प्रश्नों में से पांच के उत्तर देने होंगे तथा खंड सी में पांच- पांच अंकों के चार दीर्घ उत्तरीय प्रश्नों में से दो प्रश्नों के उत्तर देने होंगे। पन्द्रह अंकों की प्रायोगिक परीक्षा विभागाध्यक्षों द्वारा ली जाएगी। उक्त निर्णय परीक्षा विभाग में अध्यक्ष छात्र कल्याण, सभी संकायों के संकायाध्यक्षों की बैठक में लिया गया। बैठक में परीक्षा नियंत्रक भी उपस्थित थे। ई-पाठशाला के चेयरमैन प्रो. रतन कुमार चौधरी ने बताया कि छात्रों को इनवायरमेंटल लॉ एवं कंप्यूटर एंड आईटी स्किल की पाठ्य-सामग्री विवि-ई-पाठशाला पर उपलब्ध करा दी गयी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:One of the three subjects to be examined