ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहार दरभंगालनामिविवि को महिला कबड्डी में मिला कांस्य पदक

लनामिविवि को महिला कबड्डी में मिला कांस्य पदक

दरभंगा। अखिल भारतीय स्तर की खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम में ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय...

लनामिविवि को महिला कबड्डी में मिला कांस्य पदक
हिन्दुस्तान टीम,दरभंगाThu, 22 Feb 2024 12:30 AM
ऐप पर पढ़ें

दरभंगा। अखिल भारतीय स्तर की खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम में ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय की महिला कबड्डी टीम ने कांस्य पदक जीता है। वहीं, महिला टेबल टेनिस की टीम ने क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है। खेलो इंडिया में पहली बार पदक जीतने पर विश्वविद्यालय परिवार में खुशी की लहर है। लनामिवि टीम की मुख्य प्रबंधक (यूसीएम) डॉ. प्रियंका राय ने बताया कि महिला कबड्डी टीम ने लीग मैच के आधार पर खेलते हुए सेमीफाइनल मैच के लिए क्वालीफाई कर लिया था। इस मैच में लनामिवि की टीम ने फर्स्ट हाफ में अपने प्रतिद्वंदी टीम चंडीगढ़ विश्वविद्यालय, पंजाब पर अपने शानदार प्रदर्शन से दबाव बनाते हुए अंकों में काफी बढ़त बनाई रखी, लेकिन मैच के दूसरे हाफ में टीम की दो खिलाड़ियों मोनिका और पुष्करिणी के चोटिल होने के कारण टीम को पराजय झेलनी पड़ी। यह मैच गंवाने के बाद लनामिवि की टीम को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा। खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम में चंडीगढ़ विश्वविद्यालय, पंजाब ने प्रथम स्थान प्राप्त करते हुए स्वर्ण पदक तथा भारती विद्यापीठ, पूणे यूनिवर्सिटी ने दूसरा स्थान प्राप्त करते हुए रजत पदक हासिल किया है। खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम में लनामिवि की महिला टेबल टेनिस टीम ने राजस्थान विश्वविद्यालय, राजस्थान को 3-0 एवं मद्रास विश्वविद्यालय, चेन्नई को 3-0 से हराकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया है। बता दें कि खेला इंडिया यूनिवर्सिटी गेम का आयोजन नार्थ ईस्ट राज्यों में हो रहा है। 17 फरवरी से शुरू यह प्रतियोगिता 29 फरवरी को संपन्न होने वाली है।

खेलो इंडिया में पहली बार पदक जीतने पर हर्ष व्यक्त करते हुए लनामिवि के कुलपति प्रो. संजय कुमार चौधरी ने कहा कि महिला खिलाड़ियों ने अपने बेहतर प्रदर्शन और इस शानदार उपलब्धि से पूरे पूर्वी भारत को गौरवांवित किया है। कुलसचिव डॉ. अजय कुमार पंडित व खेल पदाधिकारी प्रो. अजय नाथ झा ने कहा कि लनामिवि की महिला खिलाड़ियों ने अपनी प्रदर्शन से एक आदर्श स्थापित किया है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें