DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  दरभंगा  ›  बेला रेक पॉइंट से गायब हुआ सैकड़ों क्विंटल चावल

दरभंगाबेला रेक पॉइंट से गायब हुआ सैकड़ों क्विंटल चावल

हिन्दुस्तान टीम,दरभंगाPublished By: Newswrap
Tue, 25 May 2021 03:51 AM
बेला रेक पॉइंट से गायब हुआ सैकड़ों क्विंटल चावल

लहेरियासराय | हिन्दुस्तान टीम

राज्य खाद्य निगम के अंतरजिला से आए सीएमआर (चावल) में सैकड़ों क्विंटल चावल के गायब होने का मामला प्रकाश में आया है। इसकी जानकारी मिलते ही विभाग में हड़कंप मच गया है। जानकार बताते हैं कि प्रत्येक रेक में अनाज शॉर्ट होने का मुख्य कारण अनियमितता के साथ दरभंगा के बेला स्थित रेक पॉइंट से अनाज की चोरी हो जाना है। मालूम हो कि दरभंगा में नालंदा, रोहतास, कैमूर और सुपौल जिले से चावल आता है। रेलवे की एक रेक में कुल 25 हजार क्विंटल चावल का परिवहन किया जाता है। रविवार को दरभंगा पहुंची रेक में 527 क्विंटल चावल के गायब होने की बात कही जा रही है। इसकी जानकारी मिलते ही एसएफसी के अधिकारी इसकी छानबीन में जुट गए हैं। गायब हुए चावल के चोरी होने की आशंका जतायी जा रही है। बता दें कि हाल ही में राज्य खाद्य निगम के जिला प्रबंधक अभिनव भास्कर ने रेक पॉइंट से परिवहन के समय अनाज चोरी करने के आरोप में एकरारनामित कुल आठ ट्रकों पर कारवाई कर उन्हें पांच वर्षों के लिए काली सूची में डाल दिया है। इधर, बताया जा रहा है कि रेक पॉइंट से शॉर्ट हुए अनाज का राज्य खाद्य निगम में कोई लेखा-जोखा नहीं रहता है।

जानकारों के मुताबिक राज्य खाद्य निगम में अनाज क्षति को एडजस्ट करने का कोई प्रावधान नहीं है। ऐसे में अब यह प्रश्न उठता है कि सैकड़ों क्विंटल अनाज शॉर्ट करने पर निचले पदाधिकारी यथा सहायक प्रवंधक या तो अनाज खरीदकर आपूर्ति करते होंगे या किसी अन्य स्रोतों से अनाज प्राप्त कर इसकी पूर्ति करते होंगे। बताया जाता है कि रेक लाने से लेकर उसे खाली कराने तक राज्य खाद्य निगम द्वारा दो सहायक प्रबंधकों को उठाव प्रभारी एवं सहायक उठाव प्रभारी के लिए प्रतिनियुक्त किया जाता है। रविवार को रेक पॉइंट उठाव प्रभारी शिवधारा गोदाम के सहायक प्रबंधक आनंद प्रेम और सहायक उठाव प्रभारी के तौर पर अलीनगर गोदाम के सहायक प्रबंधक सलाउद्दीन को प्रतिनियुक्त किया गया था। इस संदर्भ में जब उठाव प्रभारी आनंद प्रेम से मोबाइल फोन पर बात की गयी तो उन्होंने कहा कि यह पूछने वाले आप कौन होते हैं और फोन काट दिया। बता दें कि आनंद प्रेम से शिवधारा गोदाम से अनाज चोरी के संदर्भ में राज्य खाद्य निगम, दरभंगा की ओर से गत वर्ष 26 मार्च को शोकॉज पूछा गया था। इसमें सरकारी अनाज की कालाबाजारी करने में आनंद प्रेम की एक मजदूर के साथ सहभागिता पाई गई थी। अब सवाल यह भी उठता है कि ऐसी स्थिति में उन्हें ही पूरी रेक का उठाव प्रभारी बना दिया गया। राज्य खाद्य निगम के जिला प्रबंधक अभिनव भास्कर ने अनाज शॉर्ट होने की पुष्टि करते हुए कहा कि रेक पॉइंट पर हर बार अनाज शॉर्टेज होता है। दरभंगा के रेल रेक पॉइंट पर सुरक्षा मानकों की घोर कमी है। इसे लेकर रेल प्रसाशन को कई बार पत्र लिखा गया है। अनाज की सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरा लगवाने सहित आरपीएफ की तैनाती करने से अनाज की चोरी पर अंकुश लगाया जा सकता है।

संबंधित खबरें