DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  दरभंगा  ›  आर्थिक तंगी से जूझ रहे अतिथि शिक्षक
दरभंगा

आर्थिक तंगी से जूझ रहे अतिथि शिक्षक

हिन्दुस्तान टीम,दरभंगाPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 06:20 PM


आर्थिक तंगी से जूझ रहे अतिथि शिक्षक

दरभंगा। एक प्रतिनिधि

मिथिला प्रदेश प्लस टू अतिथि शिक्षक संघ, दरभंगा के जिलाध्यक्ष बसन्त कुमार झा ने गुरुवार को विज्ञप्ति जारी कर कहा कि इस वैश्विक महामारी के समय में भी बिहार सरकार अतिथि शिक्षकों के मानदेय से अभी तक अनभिज्ञ है। चार महीनों से अतिथि शिक्षकों का मानदेय भुगतान नहीं किया गया है जो खेदजनक है। इन शिक्षकों के ऊपर परिवार चलाने की जिम्मेदारी भी होती है। माता-पिता, पत्नी-बच्चों सभी इनके एकमात्र मानदेय पर आश्रित रहते हैं लेकिन सरकार अतिथि शिक्षकों के मानदेय को दिन प्रतिदिन दरकिनार करती जा रही है। अतिथि शिक्षकों की सेवा से शिक्षा विभाग ही नहीं राज्य सरकार भी भलीभांति अवगत है। हर विषम परिस्थितियों में हम अतिथि शिक्षकों ने राज्य सरकार के निर्देशों का शत-प्रतिशत अनुपालन किया है। जिलाध्यक्ष ने मांग की कि अतिथि शिक्षकों का आवंटन दिया जाए जिससे कि सभी अतिथि शिक्षकों को अपना मानदेय प्राप्त हो सके। साथ ही इस कोरोना काल में जितने दिनों से विद्यालय बंद है उन सभी दिनों को शैक्षणिक कैलेंडर के अनुसार भुगतान करने का आदेश भी दिया जाए। जिला सचिव अरुण कुमार मंडल, प्रमंडलीय अध्यक्ष राघवेन्द्र झा, जिला उपाध्यक्ष केशव कुमार झा, खुशबू कुमारी, श्वेता कुमारी, रितु कुमारी, राजन भारद्वाज, युगल किशोर, कमल किशोर आदि शिक्षकों ने बिहार सरकार से मांग की कि अतिथि शिक्षकों के आवंटन को शीघ्र रीलीज किया जाए जिससे कि हम सभी अतिथि शिक्षकों के परिवार में खुशी पहुंच सके।

संबंधित खबरें