DA Image
28 अक्तूबर, 2020|2:32|IST

अगली स्टोरी

क्षतिग्रस्त सड़कों की जल्द कराएं मरम्मत : डीएम

default image

डीएम डॉ. त्यागराजन एसएम ने पथ प्रमंडल एवं ग्रामीण कार्य प्रमंडलों के कार्यपालक अभियंताओं को दो दिनों के अंदर सभी पथों का सर्वेक्षण कर वस्तुस्थिति से अवगत कराते हुए सभी क्षतिग्रस्त पथों को तुरंत मोटरेबल बनाने का निर्देश दिया है।

उन्होंने कहा है कि स्थानीय विधायक व पार्षदों के साथ पंचायत प्रतिनिधियों से भी बात कर क्षतिग्रस्त पथों की जानकारी प्राप्त की जाये। उन्हें ग्रामीण क्षेत्रों के सभी पथों की ज्यादा जानकारी रहती है। कहा कि जनप्रतिनिधियों से जिले में कई पथों के क्षतिग्रस्त रहने की बराबर शिकायतें प्राप्त हो रही हैं। इसलिए उनसे वार्ता कर क्षतिग्रस्त पथों की सूची प्राप्त कर उसको तुरंत मोटरेबुल बनाया जाये। जिन पथों की मरम्मत का कार्य चल रहा है, उसे तेजी से पूर्ण कराएं। जिस पथ का टेंडर स्वीकृत है लेकिन अभी तक कार्य प्रारंभ नहीं हुआ है, वहां अविलम्ब कार्य प्रारंभ करें। उन्होंने ये बातें मंगलवार को समाहरणालय स्थित अम्बेदकर सभा भवन में आयोजित समीक्षा बैठक में कही। समीक्षा में पाया गया कि पथ प्रमंडल, दरभंगा व बेनीपुर सहित सभी ग्रामीण कार्य प्रमंडलों के अन्तर्गत कई योजनाओं की प्रगति अत्यंत धीमी है। डीएम ने इस पर अप्रसन्नता व्यक्त की और सभी कार्यपालक अभियंताओं को अपने सहयोगी एइई, जेई के साथ उनके क्षेत्राधीन सभी पथों का सर्वेक्षण कर दो दिनों के अन्दर अद्यतन प्रतिवेदन देने का निर्देश दिया। डीएम ने कहा कि जाले के विधायक ने 18 पथों के क्षतिग्रस्त रहने की सूची सौंपी है। अहिल्यास्थान-गौतम कुंड अति महत्वपूर्ण पथ का मरम्मत कार्य अभी तक शुरू नहीं हुआ है जो खेदजनक है जबकि उस पथ का टेंडर भी स्वीकृत हो गया है। यही स्थिति सुपौल-बौराम रोड की भी है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Get damaged roads repaired quickly DM