DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  दरभंगा  ›  एकजुट होकर संघर्ष करना वक्त की मांग : धीरेन्द्र
दरभंगा

एकजुट होकर संघर्ष करना वक्त की मांग : धीरेन्द्र

हिन्दुस्तान टीम,दरभंगाPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 06:20 PM
एकजुट होकर संघर्ष करना वक्त की मांग : धीरेन्द्र

दरभंगा। निज प्रतिनिधि

ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन (आइसा) के लनामि विवि स्तरीय सक्रिय नेताओं की बैठक गुरुवार को गूगल मीट एप पर हुई। बैठक में विवि में कथित रूप से व्याप्त शैक्षणिक एवं प्रशासनिक अराजकता के विरोध में 23 जून को प्रतिवाद दिवस मनाने का निर्णय हुआ। बैठक में भाकपा (माले) पोलित ब्यूरो सदस्य सह आइसा के संस्थापक महासचिव धीरेन्द्र झा भी मौजूद थे। बैठक का संचालन आइसा राज्य सह सचिव व लनामि विवि संयोजक संदीप कुमार चौधरी ने किया। भाकपा (माले) पोलित ब्यूरो सदस्य धीरेन्द्र झा ने कहा कि पूरा देश व मिथिलांचल कोरोना बीमारी से लड़ रहा है। छात्रों को सही तरीके से टीका भी नहीं पड़ा है लेकिन सरकार इस आपदा को अवसर में बदल रही है। बिहार जैसे राज्य में जब तक गांवों को विकसित नहीं बनाया जाएगा, सुदूर इलाके वाले कॉलेजों को विकसित नहीं बनाया जाएगा तब तक ऑनलाइन पढ़ाई सम्भव नहीं है। उन्होंने कहा कि आज जरूरत है कि पहले ऑफलाइन क्लास के लिए गांव-गांव में अभियान चलाकर छात्र-छत्राओं को कॉलेज व विवि जाने को लेकर प्रेरित किया जाय। आइसा राज्य सह सचिव व विश्वविद्यालय संयोजक संदीप कुमार चौधरी ने कहा कि विश्वविद्यालय में शैक्षणिक व प्रशासनिक अराजकता का माहौल चरम पर है। विश्वविद्यालय प्रशासन महाविद्यालय की स्वायत्तता तो खत्म कर सेंट्रलाइज्ड क्लास चलवा रहा है जिसका फायदा छात्रों को नहीं मिल रहा है। सभी महाविद्यालयों को क्लास चलवाने के लिए प्रेरित करने के बजाय विश्वविद्यालय क्लास के नाम पर खानापूर्ति मात्र कर रहा है। विवि प्रशासन ने एक सहायक प्रोफेसर को खुश करने के लिए सीएम लॉ कॉलेज के प्रभारी प्रधानाचार्य को हटाकर सीएम साइंस कॉलेज के प्रधानाचार्य को प्रभारी बना दिया जो नियम विरुद्ध है। उन्होंने कहा कि विवि की मनमानी और छात्रों की ज्वलंत सवालों को लेकर आगामी 23 जून को चारों जिलों में आइसा प्रतिवाद करेगी और मांग पत्र सौंपेगी। प्रदेश उपाध्यक्ष व समस्तीपुर जिला सचिव सुनील कुमार ने कहा कि विवि की खराब व्यवस्था के कारण कई छात्रों का फॉर्म नहीं भराया है। यूजी-पीजी में सीट की कमी के कारण गरीब परिवार के बच्चे उच्च शिक्षा लेने से महरूम हो रहे हैं। विवि प्रशासन की गलत नीति ने पिछले साल सैकड़ों मेधावी छात्रों को नामांकन लेने से वंचित कर दिया। यदि नामांकन में पारदर्शिता नहीं रहती है तो बड़े पैमाने पर आंदोलन किया जाएगा। बेगूसराय जिला अध्यक्ष अजय कुमार ने कहा कि बेगूसराय में बना विस्तार केंद्र बनने के समय से ही बंद पड़ा हुआ है जिसका लाभ छात्रों को नहीं मिल पा रहा है। बैठक में दरभंगा जिला अध्यक्ष प्रिंस राज, जिला कार्यकारिणी सचिव मयंक कुमार यादव, ओणम सिंह, चंदन, आजाद, मो. शम्स तबरेज, सूफियाना, समस्तीपुर जिला नेत्री प्रीति कुमारी, मनीषा कुमारी, रौशन कुमार, राजू कुमार झा, सुंदरम कुमार, जितेंद्र कुमार सहनी, बेगूसराय के नेता मो. एहतेशाम, माइकल सहित दर्जनों लोग शामिल थे।

संबंधित खबरें