Conspiracy to implicate in-laws - ससुराल वालों को फंसाने की साजिश DA Image
6 दिसंबर, 2019|1:20|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ससुराल वालों को फंसाने की साजिश

ससुराल वालों को फंसाने की साजिश

ससुराल वालों से मामूली बात पर चल रहे विवाद को लेकर दामाद ने ही ससुराल वालों को शराब मामले में फसाने की साजिद रच डाली। वह अपने मकसद में कामयाब भी हो गया। पुलिस उसकी ससुराल से दो बोतल शराब के संग उसके ससुर व साले को हिरासत में लेकर थाना ले आई। लेकिन अनुसंधान में मामला पूरी तरह बदल गया। जांचोपरांत दामाद को ही खुद जेल की हवा खानी पड़ी। सोनकी ओपी की पुलिस ने रविवार को उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

बताया जाता है कि मनीगाछी थाना क्षेत्र के मुकेश्वर यादव के पुत्र राधाकांत यादव की शादी वासुदेवपुर गांव निवासी रास लाल यादव की पुत्री के साथ 3 वर्ष पूर्व हुई थी। किसी बात पर विवाद के चलते ससुराल से उसकी पत्नी की विदाई नहीं हो रही थी। इसी को लेकर उसने ससुराल वालों को फंसाने की साजिश रच डाली। 28 जून को उसने अज्ञात व्यक्ति बनकर वासुदेवपुर गांव के रास लाल यादव (ससुर) द्वारा शराब का धंधा करने की सूचना पुलिस को दी।

उसने बताया कि अभी गाड़ी से शराब की बड़ी खेप उतर रही है। सूचना मिलते ही पुलिस ने वहां छापेमारी की। छापेमारी के क्रम में आंगन में दो बोतल शराब पायी गयी।

मौके से पुलिस ने रासलाल एवं उसके पुत्र मुकेश को हिरासत में ले लिया। लेकिन ओपी प्रभारी धरमपाल को मामले में कुछ संदेह हुआ। वरीय अधिकारी से विमर्श कर दोनों को पीआर बांड पर छोड़ दिया। अनुसंधान के क्रम में सूचना देने वाले मोबाइल नंबर की जांच करने पर वह रामलाल के दामाद का निकला। इस नंबर का टावर लोकेशन भी घटना के दिन ससुराल में पाया गया। अंतत पुलिस ने अनुसंधान में पाया कि दामाद ने ही ससुराल में शराब रख ससुराल वाले को फसाने को लेकर पुलिस को फोन कर सूचना दी। इसकी पुष्टि ओपी प्रभारी धरमपाल ने की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Conspiracy to implicate in-laws