DA Image
27 अक्तूबर, 2020|8:56|IST

अगली स्टोरी

टिड्डी दल से निपटने को लिए फायर ब्रिगेड को सौंपी कमान

default image

डीएम डॉ. त्यागराजन एसएम ने टिड्डियों के संभावित हमले को देखते हुए इसको खत्म करने के लिए फायर ब्रिगेड की टीम को तैनात रहने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा है कि राज्य के पश्चिमी चम्पारण जिले के कुछ प्रखंडों मे टिड्डी दलों के आगमन की सूचना है। आशंका है कि यह समस्तीपुर, मुजफ्फरपुर व सीतामढ़ी जिले की सीमा से सटे इस जिले के प्रखंडों में हमला कर सकता है। इसमें दरभंगा जिले के सिंहवाड़ा, बहेड़ी, हायाघाट, हनुमाननगर, बिरौल, कुशेश्वरस्थान व कुशेश्वरस्थान पूर्वी प्रखंड विशेष रूप से संवदेनशील बताये गये हैं। उन्होंने कहा है कि टिड्डियों के हमले से फसलों को बचाने के लिए सभी को पूर्ण सतर्क एवं जागरूक रहना होगा। उन्होंने कहा कि टिड्डियों के आगमन होने पर सभी को एक साथ शोर मचाना चाहिए। इसके लिए ड्रम, थाली, घंटी, ढोलक, टीना आदि का इस्तेमाल उपयोगी ही सकता है। शोर मचाने से टिड्डियों का दल हवा की दिशा में बाहर निकल जायेगा। जिला कृषि पदाधिकारी ने कहा कि टिड्डियों से फसलों को बचाने के लिए कंटिंजेंट प्लान तैयार कर लिया गया है। अगर टिड्डियों का झुंड कहीं बैठ जाता है तो कीटानुनाशक दवा का इसपर छिड़काव कर इसे खत्म कर दिया जायेगा। टिड्डियों को खत्म करने के लिए फायर बिग्रेड की 10 टीमों को तैयार किया गया है। कृषि विज्ञान केन्द्र जाले के वैज्ञानिक डॉ. राजेन्द्र प्रसाद ने टिड्डियों को पहचानने का तरीका बताया। डीएम ने सभी बीडीओ व बीएओ को जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक कर उन्हें टिड्डियों के हमले से सुरक्षा की जानकारी देने का निर्देश दिया है। उन्हें कहा गया है कि टिड्डियों की सूचना तुरंत दी जाये।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Command assigned to fire brigade to deal with locust