DA Image
20 सितम्बर, 2020|3:39|IST

अगली स्टोरी

भाजपा-जदयू गठबंधन को परास्त करने का आह्वान

default image

लहेरियासराय गुदरी स्थित विजय कांत ठाकुर स्मृति भवन सीपीआईएम जिला कार्यालय में सीपीआईएम जिला कमेटी की बैठक सीपीआईएम के वरिष्ठ नेता हृदय नारायण यादव की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में दरभंगा जिले के बहादुरपुर, सदर और कुशेश्वरस्थान सीट पर चुनाव लड़ने का निर्णय लिया गया। इसके साथ ही तीनों विधानसभा में तैयारी शुरू करने का निर्णय लिया गया। पार्टी ने भाजपा-जदयू गठबंधन को परास्त करने का आह्वान किया। बैठक में सीपीआईएम जिला सचिव अविनाश ठाकुर ने कोरोना महामारी बाढ़ जैसे आपदा के वक्त पार्टी द्वारा चलाए गए संघर्षों एवं राहत कार्य के संबंध में विस्तारित रूप से चर्चा की। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी और बाढ़ जैसे आपदा के समय प्रशासनिक उदासीनता के चलते आम लोग प्रभावित हुए हैं। दरभंगा जिले में कई जगह सांप्रदायिक सदभावना को बिगाड़ने की कोशिश हुई है। दरभंगा जिले में बाढ़ अनुश्रवण समिति की बैठक नहीं बुलाई गई। संपूर्ण दरभंगा जिला बाढ़ प्रभावित है। मगर प्रशासन दरभंगा जिले के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। बाढ़ राहत राशि वितरण में पक्षपात और मनमानी उजागर हो रही है। अभी भी बड़ी संख्या में बाढ़ पीड़ित हैं जिनके खाते में राशि नहीं गया है और कई जगह वास्तविक बाढ़ पीड़ितों को बाढ़ राहत राशि से वंचित किया गया है। सीपीआईएम राज्य सचिव मंडल सदस्य ललन चौधरी ने कहा कि केंद्र की सरकार और राज्य सरकार कोरोना महामारी और बाढ़ जैसे विभीषिका के प्रबंधन में पूरी तरह से विफल रही है। सीपीआईएम राज्य सचिव मंडल सदस्य श्याम भारती ने कहा कि गरीब मेहनतकश लोगों को काम की गारंटी सरकार को करनी चाहिए। मगर सरकार ऐसा नहीं कर मजदूरों को छटनी-कटनी करने में लगी हुई है। बैठक को राम अनुज यादव, दिलीप भगत, रघुनाथ झा, नरेंद्र मंडल, प्रमोद सिंह, राम सागर पासवान, गोपाल ठाकुर, दिनेश झा, सुशीला देवी, सुधीर पासवान आदि ने भी संबोधित किया।