DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंक कर्मियों ने निकाला जुलूस, आज से हड़ताल

वेतन वृद्धि को लेकर सरकार से वार्ता के दौरान कोई नतीजा नहीं निकलने पर यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस के बैनर तले बैंक कर्मियों ने दो दिनों की हड़ताल पर जाने की ठान ली है। उनलोगों की हड़ताल के कारण 30 और 31 मई को लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ेगी। एजीएम रैंक के अधिकारी तक दो दिवसीय हड़ताल में शामिल होंगे।

इस वजह से जिले के सभी बैंकों में दो दिनों तक ताला झूलता रहेगा। केवल उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक व कोऑपरेटिव बैंक की शाखाओं में नियमित रूप से कामकाज चलेगा। हड़ताल के समर्थन में बैंक कर्मियों ने मंगलवार की शाम दरभंगा टॉवर से भोगेन्द्र झा चौक तक जुलूस निकाला। इस दौरान वे सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर रहे थे।

उनलोगों ने चेतावनी दी कि अगर उनकी मांग मानी नहीं जाती है तो वे अपने आंदोलन को और भी ज्यादा विस्तारित करेंगे। भोगेन्द्र झा चौक पर अजीत कुमार सिंह की अध्यक्षता में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए एआईबीईए के रामाधार सिंह व मनिन्द्र कुमार शर्मा, एआईबीओसी के सरोज कुमार सिंह आदि ने भारत सरकार व आईबीए को चेतावनी देते हुए कहा कि बैंक कर्मियों की जायज मांगों पर वे अविलम्ब समझौता करे। ऐसा नहीं करने पर वे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे।

उनलोगों ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि बैंक कर्मी अगर सरकार बना सकते हैं तो सरकार को उखाड़ फेंकने की भी वे ताकत रखते हैं। बैंक कर्मियों की हड़ताल को समर्थन दे रहे चेयरमेन एडवाइजरी कमेटी,यूबीजीबी डॉ. श्रीकृष्ण कुमार व एआईबीईए के सचिव प्रदीप कुमार झा ने कहा कि उनलोगों की मांगे पूरी तरह जायज हैं। सरकार को अपने अड़ियल रवैये को छोड़कर बैंक कर्मियों की जायज मांग मान लेनी चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bank workers withdraw process