ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार छपराजिले में 18-19 जून को वर्ग आठ तक स्कूलों में पढ़ाई रहेगी बंद

जिले में 18-19 जून को वर्ग आठ तक स्कूलों में पढ़ाई रहेगी बंद

डीएम ने जारी किया आदेश न के अनुसार सारण जिला में भीषण गर्मी व लू की स्थिति अभी बनी रहेगी। इस कारण सरकारी व निजी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं के स्वास्थ्य व जीवन पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ने की...

जिले में 18-19 जून को वर्ग आठ तक स्कूलों में पढ़ाई रहेगी बंद
default image
हिन्दुस्तान टीम,छपराMon, 17 Jun 2024 09:45 PM
ऐप पर पढ़ें

डीएम ने जारी किया आदेश
मौसम को देखते हुए लिया गया निर्णय

छपरा, नगर प्रतिनिधि। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार सारण जिला में भीषण गर्मी व लू की स्थिति अभी बनी रहेगी। इस कारण सरकारी व निजी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं के स्वास्थ्य व जीवन पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ने की संभावना है। ऐसे में जिला पदाधिकारी अमन समीर ने सोमवार को दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत सारण जिले के सभी सरकारी व निजी विद्यालयों के कक्षा आठ तक के शैक्षणिक गतिविधियों पर प्रतिबंध लगाने का आदेश जारी किया है। 18 व 19 जून की अवधि में विद्यालय के शिक्षक व शिक्षकेत्तर कर्मी विद्यालय -कार्यालय में उपस्थित रह कर अपने कार्यों का सम्पादन करेंगे। मालूम हो कि जिले में भीषण गर्मी के कारण स्कूली बच्चों को काफी परेशानी हो रही थी। कई बच्चे बीमार भी हुए थे और कुछ तो स्कूल में ही बेहोश हो गए थे। इसके बाद राज्य मुख्यालय ने 15 जून तक स्कूलों में पठन-पाठन बंद रखने के साथ ही शिक्षकों को भी स्कूल आने से छूट का आदेश जारी किया था। सोमवार को जिलाधिकारी के हस्ताक्षर से जारी आदेश के बाद शिक्षकों को अब स्कूल आना पड़ेगा।

शहर में शराब पीकर मारपीट करने वालों में एक की स्थिति गंभीर, पीएमसीएच रेफर, दो गिरफ्तार

छपरा, हमारे संवाददाता। शहर के टाउन थाना क्षेत्र के महमूद चौक पर किसी बात को लेकर आपस में कुछ लोग उलझ गए और जमकर मारपीट करने लगे। कुछ देर के लिए वहां भीड़ इकट्ठी हो गई। मौके पर पहुंचकर टाउन थाने के सब इंस्पेक्टर जसवंत कुमार सिंह तीनों को थाने लेकर पहुंचे व शराब की जांच कराई गई। तीनों के शराब पीने की पुष्टि हो गई। मारपीट में गंभीर रूप से जख्मी भगवान बाजार थाना क्षेत्र के रामलीला मठिया के रहने वाला रोहित विश्वकर्मा बताया जाता है। ‌ जब तबीयत बिगड़ने लगी तो तत्काल उसे टाउन थाने के इंस्पेक्टर सह थाना अध्यक्ष संजीव कुमार स्वयं उसे थाने के गाड़ी में बैठकर छपरा सदर अस्पताल के इमरजेंसी में पहुंचे। वहां ड्यूटी में मौजूद डॉ हरेंद्र कुमार ने बताया कि अंदरूनी चोट के कारण सांस लेने में तकलीफ हो रही है और उन्होंने रोहित को पीएमसीएच रेफर कर दिया। छपरा सदर अस्पताल एडिशनल एसपी राजकिशोर सिंह भी पहुंच गए। दोनों पदाधिकारियों ने उसे एंबुलेंस से उसके चाचा व एक पुलिस पदाधिकारी के साथ पीएमसीएच भिजवा दिया। ‌ एडिशनल एसपी ने बताया कि इस मामले में भरत मिलाप चौक मोहल्ले का रहने वाला रवि कुमार व राकेश कुमार को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है। ‌

एसपी ने किया थाने का औचक निरीक्षण, लंबित मामले के निपटारा का दिया निर्देश

बकरीद में जोड़

एकमा,निज संवाददाता । एसपी डॉ कुमार आशीष बकरीद को लेकर क्षेत्र भ्रमण के लिए निकले हुए थे। इसी क्रम में जिले के एकमा थाने में पहुंचकर औचक निरीक्षण किया । निरीक्षण के क्रम में उन्होंने थाना क्षेत्र में हुए कांडों में हुई गिरफ्तारी की स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने थाना क्षेत्र में हो रही नियमित गश्ती व निर्गत वारंट कुर्की जब्ती के निष्पादन की भी गहन समीक्षा की। समीक्षा के क्रम में किसी भी मामले में त्वरित निष्पादन पर चर्चा हुई। एसपी ने थानाअध्यक्ष को भूमि विवाद को समय पर निपटारा करने व अपराधियों की गिरफ्तारी करने का निर्देश दिया। साथ ही विधि व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस को थाना क्षेत्र में नियंत्रण गश्ती करने का निर्देश दिया । इस दौरान थाना अध्यक्ष सह पुलिस इंस्पेक्टर उदय कुमार पुअनि अर्चना कुमारी उपस्थित थे ।

जिले में कालाजार मुक्त अभियान के तहत सिंथेटिक पाइरोथाइराइड का छिड़काव शुरू

फिलहाल 32 कालाजार मरीजों का किया जा रहा है इलाज़

कालाजार के मरीज़ों को प्रोत्साहन राशि के साथ ही किया जाता है जागरूक

फोटो 7 - मलेरिया पदाधिकारी के निर्देश के बाद छिड़काव करते स्वास्थ्य कर्मी

छपरा, हमारे संवाददाता। कालाजार मुक्त करने के लिए जिले के विभिन्न प्रखंड क्षेत्रों के अतिप्रभावित गांवों के लोगों को जागरूक करने के लिए विशेष रूप से अभियान चलाया जा रहा है। फिलहाल कालाजार के मरीज़ों की संख्या मात्र 32 रह गई है जिनका इलाज चल रहा है। यह जानकारी जिला मलेरिया पदाधिकारी डॉ दिलीप कुमार सिंह ने दी। जागरूकता के लिए स्वास्थ्य विभाग के द्वारा लगातार बैनर, पोस्टर के साथ ही प्रचार वाहन के माध्यम से गांव के हर गली व चौक चौराहों पर जिलेवासियों को जागरूक किया जाता है। कालाजार के मामलों में लगातार कमी आ रही है। जिला वेक्टर जनित रोग नियंत्रण पदाधिकारी ने बताया कि छिड़काव कार्य को शत प्रतिशत कराने को लेकर विभागीय स्तर पर कार्यरत जिला वेक्टर जनित रोग नियंत्रण सलाहकार सुधीर कुमार सिंह को परसा व मकेर जबकि वेक्टर रोग नियंत्रण पदाधिकारी अनुज कुमार को एकमा, तरैया और इसुआपुर, शशिकांत कुमार को मढ़ौरा, मशरक व नगरा, सुमन कुमारी को मांझी, जलालपुर व दिघवारा, सतीश कुमार को पानापुर, बनियापुर और लहलादपुर, पंकज तिवारी को सोनपुर, गड़खा और दरियापुर, मीनाक्षी सिंह को छपरा सदर और रिविलगंज प्रखंड का पर्यवेक्षीय पदाधिकारी बनाया गया है।

जिले में फिलहाल 32 कालाजार मरीजों का किया जा रहा इलाज़

वेक्टर रोग नियंत्रण पदाधिकारी वीडीसीओ अनुज कुमार ने बताया कि वीएल, पीकेडीएल और एचआईवी (एड्स) - वीएल मरीजों की बात की जाए तो विगत वर्ष 2021 में 331 थी तो 2022 में 156 जबकि 2023 में 133 मरीजों की पहचान हुई थी। वहीं वर्ष 2024 में अभी तक मात्र 32 कालाजार मरीजों का इलाज स्वास्थ्य विभाग द्वारा किया जा रहा है।

प्रोत्साहन राशि के साथ किया जाता है जागरूक

जिला वेक्टर जनित रोग नियंत्रण पदाधिकारी डॉ दिलीप कुमार ने बताया कि ज़िले के सभी प्रखंडों में सर्वे के बाद 330 अतिप्रभावित गांवों का चयन किया गया है। इसमें लगभग 11 लाख, 30 हज़ार, 09 सौ 96 जनसंख्या वाले आक्रांत गांवों में 72 भ्रमणशील टीम के द्वारा सिंथेटिक पाइरोथाइराइड एसपी का छिड़काव लगभग 60 से 65 दिनों तक किया जाएगा। प्रति कालाजार पीड़ित मरीज़ को 7100 रुपये की श्रम-क्षतिपूर्ति राशि भी दी जाती है। यह राशि भारत सरकार के द्वारा 500 एवं राज्य सरकार की ओर से कालाजार राहत अभियान के अंतर्गत मुख्यमंत्री प्रोत्साहन राशि के रूप में 6600 सौ रुपये दी जाती है। कालाजार से बचाव के लिए हमलोगों को गर्मी के दिनों में बहुत ज़्यादा सतर्कता बरतनी होगी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।