ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार छपरासोना 75 हजार रुपये पार, कैसे बनेगा मंगलसूत्र : रोहिणी

सोना 75 हजार रुपये पार, कैसे बनेगा मंगलसूत्र : रोहिणी

म आसमान छूने लगे हैं। सोने का दाम 75 हजार रुपए पार हो गया है । ऐसे में आम महिलाएं मंगलसूत्र कैसे बना पाएंगी। स्वर्णकार कारीगरों की आज यह दुर्दशा है कि वह रिक्शा, ठेला आदि चलाने को विवश हैं। वैश्य...

सोना 75 हजार रुपये पार, कैसे बनेगा मंगलसूत्र : रोहिणी
हिन्दुस्तान टीम,छपराSat, 11 May 2024 09:30 PM
ऐप पर पढ़ें

फोटो 10: शहर के रौजा में चुनावी जनसभा को संबोधित करती डॉ रोहिणी आचार्य
छपरा, एक संवाददाता। इंडिया गठबंधन की प्रत्याशी डॉ रोहिणी आचार्य ने कहा कि भाजपा सरकार में तमाम रोजमर्रा की वस्तुओं के दाम आसमान छूने लगे हैं। सोने का दाम 75 हजार रुपए पार हो गया है । ऐसे में आम महिलाएं मंगलसूत्र कैसे बना पाएंगी। स्वर्णकार कारीगरों की आज यह दुर्दशा है कि वह रिक्शा, ठेला आदि चलाने को विवश हैं। वैश्य समाज द्वारा शहर के दलदली बाजार स्थित नारायण पैलेस में शुक्रवार को देर रात्रि को आयोजित चुनावी जन सभा को संबोधित करते हुए रोहिणी आचार्य ने यह बातें कही। अध्यक्षता व संचालन वैश्य महासभा के अध्यक्ष वीरेंद्र साह मुखिया ने की। रोहिणी ने कहा कि भाजपा की नीतियों के कारण सर्वाधिक नुकसान वैश्य समाज को ही हुआ है । इसके पूर्व रौजा में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जुमले बाजी व गालियों की परवाह किये बिना इसका जवाब हमारी महागठबंधन की सरकार ने पांच लाख लोगों को रोजगार देकर दिया है जिसका प्रतिकार नौकरी पाने व नौकरी में जाने वाले युवा दे रहे हैं। मुद्दे पर सवाल पूछना विपक्ष की नैतिक जिम्मेवारी है। पूर्व मंत्री सह विधायक जितेंद्र राय, विधायक व पूर्व मंत्री समीर कुमार महासेठ, एमएलसी विनोद जायसवाल, व्यावसायिक प्रकोष्ठ पूर्व अध्यक्ष सतीश कुमार गुप्ता, जितेंद्र स्वामी, राष्ट्रीय वैश्य महासभा के कार्यकारी अध्यक्ष डॉ पी के चौधरी, उपाध्यक्ष सतीश कुमार गुप्ता, पूर्व डी जी पी अशोक कुमार गुप्ता,काको जी, रामबाबू राय, नप के पूर्व चेयरमैन डॉ नीलू कुमारी, अमरजीत राय, राजद नेत्री प्रतिमा कुशवाहा, पूर्व प्रत्याशी गोपालगंज मोहन गुप्ता, पूर्व विधायक मुद्रिका राय, जिलानी मोबिन, सागर नौशेरवा अफरोज आलम, जिला प्रवक्ता डॉ अमित रंजन, दिलीप सिंह कुशवाहा, रंजन सिंह कुशवाहा,वरीय नेता रामबाबू राय, पूर्व उप प्रमुख मोहन गुप्ता, विष्णु गुप्ता, कक्कू जी, राजू गुप्ता, विद्यासागर विद्यार्थी कृष्ण कुमार वैष्णवी, महेश प्रसाद स्वर्णकार, अवधेश कुमार गुप्ता, संजीत कुमार नन्ची समेत कई अन्य मौजूद थे। पूर्व में वैश्य समाज की ओर से डॉ रोहिणी आचार्य को माला व मुकुट पहनाकर स्वागत किया गया।

इंडी गठबंधन बिना कप्तान के चलता हुआ शिप : डॉ.मधुरेंदु

छपरा। जदयू मीडिया पैनलिस्ट डॉ.मधुरेंदु पांडेय ने इंडी गठबंधन पर हमला करते हुए कहा कि इंडी गठबंधन बिना कप्तान के चलता हुआ शिप है जिसका कोई लक्ष्य या मंजिल तय नहीं है। ऐसे शिप का क्या हस्र होता है, जनता बखूबी जानती है। एक विज्ञप्ति के जरिये पांडेय ने कहा कि चार जून को लोकसभा चुनाव परिणाम के बाद यह इंडी गठबंधन नामक जलयान जलसमाधि ले लेगा पांडेय ने कहा कि विरासत में मिली हुई सियासत के लोगों से बनी इंडी गठबंधन पर देश की जनता को भरोसा व विश्वास नहीं है। इंडी गठबंधन पर जोरदार हमला करते हुए कहा कि इस गठबंधन में भ्रष्टाचारियों व अपराधियों का तत्कालीन जमावड़ा है। इससे देश को बहुत भारी खतरा है। इंडी गठबंधन से देश की एकता, अखंडता और सुरक्षा पर खतरा है। ऐसे लोग देश की संप्रभुता के साथ खिलवाड़ करेंगे। विदित हो कि 55 वर्षों तक देश की सत्ता पर काबिज कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों ने देश के खजाना को लूटने का काम किया है। यूपीए गठबन्धन सरकार में उसके अधिकतर मंत्रीमंडलीय सदस्य किसी न किसी घोटालों में लिप्त रहें हैं।देश में भय, भूख और भ्रष्टाचार का आलम था । बिहार में कांग्रेस और राजद शासन काल में जंगलराज था। कानून और विधि व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं थी। कांग्रेस और राजद शासन काल में युवा वर्ग कलम छोड़ हथियार उठाना सीख गए थे। बिहार के युवाओं का भविष्य चौपट होने लगा था। बिहार में जंगलराज की पुनरावृति न हो और अपने बेहतर भविष्य के लिए केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए सरकार के गठन के लिए नि:संकोच एनडीए प्रत्याशी के पक्ष में मतदान कर बिहार के विकास पुरुष मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के हाथों को मजबूत करने का काम करें।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।