अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पथराव व फायरिंग में विधायक सहित 67 के खिलाफ प्राथमिकी

सोनपुर में भारत बंद के दौरान हुए उपद्रव व फायरिंग तथा उसके दूसरे दिन मंगलवार को दो गुटों के बीच हुए पथराव, हिंसक झड़प, फायरिंग तथा तोड़फोड़ में चार प्राथमिकियां दर्ज की गई है। इन प्राथमिकियों में सोनपुर के राजद विधायक डॉ. रामानुज प्रसाद, उपप्रमुख श्यामबाबू राय, सोनपुर नगर पंचायत के पूर्व उपाध्यक्ष विनोद सिंह सम्राट सहित राजनीतिक दल से जुड़े 67 को नामजद तथा 320 अज्ञात लोगों को आरोपित किया गया है। वहीं पुलिस ने मंगलवार की शाम गिरफ्तार किये गये उपप्रमुख सहित आठ लोगों को बुधवार को जेल भेज दिया। इनपर मंगलवार को सोनपुर के गौतम चौक तथा दुधैला बाईपास और दुधैला गाछी में फायरिंग, पथराव तथा तोड़फोड़ करने का आरोप है। सोनपुर थाना अध्यक्ष राम सिद्धेश्वर आजाद ने बताया कि अन्य नामजद लोगों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। उन्होंने बताया कि भारत बंद के दौरान पटना जाने वाले मुख्य मार्ग को बजरंग चौक के जाम करने के संदर्भ में पहलेजा घाट ओपी प्रभारी कमल राम के बयान पर नौ नामजद व 20 अज्ञात के खिलफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। वहीं भारत बंद तथा उसके दूसरे दिन मंगलवार को सोनपुर में हुए उपद्रव व सड़क जाम तथा तोड़फोड़ को लेकर थानाध्यक्ष के बयान पर दो अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज की है। इस प्राथमिकी में विधायक के अलावा उपप्रमुख व नगर पंचायत के पूर्व उपाध्यक्ष समेत 51 लोगों को नामजद किया गया है। इसके अलावा गोलीबारी में दुधैला बाईपास के समीप के घायल हुए निर्भय कुमार के बयान पर भी प्राथमिकी दर्ज की गई है। प्राथमिकी में सूचक ने आरोप लगाया है वह पटना ड्यूटी पर जाने के लिए घर से निकला कि इसी बीच मंगलवार को सड़क पर हो-हल्ला कर रहे लोगों को देखकर वह सीमेंट और छड़ की दुकान में छुप गया। वहां शाहपुर के अमरेंद्र सिंह पहुंचकर उसके साथ मारपीट करने लगे इसी बीच शाहपुर के रितेश कुमार सिंह ने गोली चला दी। गोली उसके दाहिने हाथ में लगी। इस दौरान मारपीट में उसके दो चचेरे भाई भी घायल हो गए। इस मामले में सात लोगों को नामजद किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:FIR against 67 including MLA in stone throwing and firing