DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  छपरा  ›  लूट के 5 लाख से बरामद रुपये संग आठ गिरफ्तार

छपरालूट के 5 लाख से बरामद रुपये संग आठ गिरफ्तार

हिन्दुस्तान टीम,छपराPublished By: Newswrap
Mon, 24 May 2021 08:00 PM
लूट के 5 लाख से बरामद रुपये संग आठ गिरफ्तार

हमारे संवाददाता

छपरा। सारण पुलिस को एक बड़ी कामयाबी मिली है। जिले में हुए दो लूट कांडों का एसआईटी ने उद्भेदन कर दिया है। एसपी संतोष कुमार ने सोमवार को भगवान बाजार थाना में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 3 मई को एकमा हंसराजपुर में जो राशि की लूट हुई थी उसमें 6 लाख 84 हजार रुपए की लूट फ्लिपकार्ट कार्यालय से हुई थी लेकिन अधिक रुपए लूट की बात बताई गई थी। घटना के तुरंत बाद सदर डीएसपी मुनेश्वर प्रसाद सिंह के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया था। इस लूट कांड में शामिल सभी अपराधियों को एसआईटी ने गिरफ्तार कर लिया है। एसपी ने बताया की इस मामले को लेकर वे काफी गंभीर थे । टीम भी गठित की गई थी। पुलिस को इसमें सफलता मिली है कि लूट के चार लाख 51 हजार रुपए और लूट में प्रयुक्त मोबाइल हेलमेट और अपराधियों के पहने हुए कपड़े को सीसीटीवी कैमरे के माध्यम से भी जब्त किया गया है। एसपी ने बताया कि फ्लिपकार्ट के मैनेजर का उद्देश्य था कि पैसा को किसी तरह से गबन कर जाना है। उन्होंने बताया कि टीम में शामिल सभी पुलिस पदाधिकारियों को भी पुरस्कृत करेंगे। मालूम हो कि घटना के बाद सारण रेंज के डीआइजी मनु महाराज और एसपी इस पूरे घटना का जांच को लेकर घटनास्थल पर भी पहुंचे थे।

मैनेजर और कर्मचारी ने ही लूट कांड की रची थी साजिश

एकमा के हंसराजपुर में फ्लिपकार्ट लूट कांड का साजिश रचने वाला कोई और नहीं निकला, बल्कि कंपनी के मैनेजर और कर्मचारी ने ही इस पूरे प्लान को तैयार किया था। एसपी संतोष कुमार ने यह खुलासा पत्रकारों के सामने किया। उन्होंने बताया कि फ्लिपकार्ट के मैनेजर गुंजन कुमार व कर्मी सूरज ने ही लूट की साजिश रची थी । पुलिस की पूछताछ के बाद यह दोनों ने अपने अपराध को कबूल किए। एसपी ने बताया कि इस कांड में शामिल अपराधियों में सबसे पहले सीवान जिले के पचरुखी थाने के गम्हरिया गांव का रहने वाले अभिषेक की गिरफ्तारी की गई। गिरफ्तार अपराधियों में अभिषेक कुमार, एकमा चट्टी के रहने वाला सूरज कुमार, चक नूर दिघवारा के कृष्णा सिंह, मीरपुर भूआल के उमेश महतो शामिल हंै। लूट के रुपए को सबसे पहले इन अपराधियों ने भुइली बगीचा में बंटवारा किया था ।

दिघवारा मे उत्कर्ष फाइनेंस कंपनी से लूट मामले में भी तीन अपराधी गिरफ्तार

जिले के दिघवारा थाना क्षेत्र 10 मई को उत्कर्ष फाइनेंस कंपनी के कैशियर राहुल को गोली मारकर मार 9 लाख 49 हजार लूट कांड का भी उद्भेदन किया गया है। एसपी कुमार ने बताया कि अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अंजनी कुमार के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई थी। इसमें थानाध्यक्ष दिनेश दास एसआईटी के अन्य पुलिस पदाधिकारी भी शामिल थे। टीम ने इस कांड में शामिल तीन अपराधियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार अपराधियों के पास से पुलिस ने 65 हजार रुपए मोबाइल व अन्य सामान जब्त किये हैं। एसपी ने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों में बैंक ऑफ इंडिया का चपरासी रमेश पासवान लाइनर की भूमिका में था। वह दिघवारा थाना क्षेत्र के हेमंतपुर का रहने वाला है। उसे भी गिरफ्तार किया गया है। इसके अलावा में दिघवारा थाना क्षेत्र के अनंत मिर्जापुर के रहने वाला कृष्णा राम, मीर भुवालपुर के उमेश महतो को भी गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि बैंक के चपरासी ने ही पूरा प्लान किया था और अपराधियों को बताया था कि बैंक में पैसा उत्कर्ष फाइनेंस का कब जमा होता है, उसके बाद से इन अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया।

संबंधित खबरें