DA Image
28 अक्तूबर, 2020|10:52|IST

अगली स्टोरी

स्वच्छाग्रही के खिलाफ एफआईआर का डीएम का आदेश

default image

गड़खा प्रखंड की मीरपुर पंचायत में चल रहे शौचालय निर्माण में गड़बड़ी को लेकर डीएम ने स्वच्छाग्रही के खिलाफ कार्रवाई करने का आदेश दिया है। डीएम सुब्रत कुमार सेन को स्थानीय ग्रामीणों ने आवेदन देकर कहा था कि स्वच्छाग्रही शौचालय निर्माण के लिए दो- दो हजार रुपये की राशि मांग रहे हैं। राशि नहीं देने पर शौचालय निर्माण नहीं कराने की भी धमकी स्वच्छाग्रही दे रहे हैं। ग्रामीणों से मिले आवेदन का अवलोकन करने के बाद डीएम ने इस मामले में जांच के लिए बीडीओ को अधिकृत किया था । बीडीओ कमलाकांत त्रिवेदी ने शनिवार को जांच कर अपनी रिपोर्ट डीएम को दे दी। जांच रिपोर्ट में ग्रामीणों के स्तर पर लगाए गए आरोप को सही करार दिया गया है। बीडीओ ने इस बारे में कई ग्रामीणों से बात भी की थी। ग्रामीणों ने स्वच्छाग्रही के खिलाफ लगे आरोपों को पूरी तरह से सही कहा। जांच रिपोर्ट मिलने के बाद डीएम ने स्वच्छाग्रही के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश बीडीओ को दिया है। दर्ज प्राथमिकी के बारे में प्रतिवेदन की भी मांग की गई है। मालूम हो कि जिले के विभिन्न प्रखंडों में शौचालय निर्माण का कार्य तेजी से चल रहा है। कुछ प्रखंडों में स्वच्छाग्रही के स्तर पर धांधली करने की शिकायत डीएम को मिल रही है। डीएम ने बताया कि शौचालय निर्माण का कार्य उनकी प्राथमिकता सूची में सबसे ऊपर है। इस कार्य में लापरवाही व जनता से राशि वसूली करने वाले किसी भी कर्मी या पदाधिकारी को बख्शा नहीं जाएगा। जिला को ओडीएफ करने के लिए लगातार मॉनिटरिंग भी की जा रही है। इसकी रिपोर्ट में मुख्यालय को भेजी जा रही है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:DM order of FIR against cleaners