ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार छपराबाजार समिति प्रांगण में मतगणना चार जून को, देर से आएंगे रिजल्ट

बाजार समिति प्रांगण में मतगणना चार जून को, देर से आएंगे रिजल्ट

राजगंज संसदीय क्षेत्र की जनता किस पार्टी के प्रत्याशी को चुनेगी, यह इंतजार चार जून को समाप्त हो जाएगा। चुनाव आयोग ने वोटों की गिनती चार मई को करने की तिथि पहले से ही निर्धारित कर रखी है लेकिन मतगणना...

बाजार समिति प्रांगण में  मतगणना चार जून को, देर से आएंगे रिजल्ट
हिन्दुस्तान टीम,छपराMon, 27 May 2024 10:00 PM
ऐप पर पढ़ें

सारण और महाराजगंज संसदीय क्षेत्र की होगी मतगणना
पेज चार की बॉटम

छपरा, नगर प्रतिनिधि।सारण और महाराजगंज संसदीय क्षेत्र की जनता किस पार्टी के प्रत्याशी को चुनेगी, यह इंतजार चार जून को समाप्त हो जाएगा। चुनाव आयोग ने वोटों की गिनती चार मई को करने की तिथि पहले से ही निर्धारित कर रखी है लेकिन मतगणना के दिन फाइनल नतीजों के लिए अपेक्षाकृत ज्यादा प्रतीक्षा करनी पड़ेगी। मतगणना से जुड़े अधिकारियों ने बताया कि यह नतीजे इस बार पांच घंटे देरी से आ सकते हैं। निर्वाचन आयोग के आदेश पर मतदान प्रक्रिया में पिछले चुनाव के समय से बदलाव किया गया है। एक राउंड की घोषणा और शीट चस्पा होने के बाद ही दूसरे राउंड की ईवीएम टेबल पर आएगी। इससे एक लोकसभा सीट का नतीजा आने में 10 से 13 घंटे तक का समय लग सकता है। पूर्व में इस प्रक्रिया में 7 से 9 घंटे का समय लगता था । ऐसे में अब तीन से चार घंटे का अतिरिक्त समय लगेगा। जानकारी के मुताबिक एक राउंड की मतगणना की शीट आरओ द्वारा आगे भेजते ही दूसरे राउंड की मतगणना शुरू हो जाती थी। सामान्यत: पहले राउंड में तीस मिनट तक का समय लगता था,फिर अगले राउंड में 15 मिनट लगते थे। अब नये निर्देश के अनुसार इस बार पहले राउंड में 45 मिनट का समय लगेगा। दूसरे से लेकर अंतिम तक प्रत्येक राउंड में 25 -30 मिनट का अतिरिक्त समय लगेगा। पहले राउंड की शीट को सहायक रिटर्निंग अधिकारी द्वारा आरओ को दिया जाएगा। आरओ सीट को प्रेक्षक को देंगे। प्रेक्षक द्वारा शीट पर हस्ताक्षर करने के बाद इसकी घोषणा की जाएगी। फिर इसे चस्पा दिया जाएगा। यह प्रक्रिया खत्म होने के बाद दूसरे राउंड की ईवीएम आएगी। अंतिम राउंड तक यही क्रम चलेगा। इसके अलावा पोस्टल बैलट में क्यू आर कोड की स्कैनिंग, वीवीपैट की पर्चियों की गिनती और मिलान के चलते भी अधिक समय लगेगा ।

मतगणना में प्रत्याशी की शंका का होगा समाधान

चुनाव आयोग ने जिला निर्वाचन पदाधिकारी व प्रेक्षक को भेजे दिशा निर्देश में कहा है कि लोकसभा के वोटों की गिनती में जल्दबाजी नहीं की जाए। मतगणना की प्रक्रिया का पालन हो। सुबह आठ बजे से आयोग ने मतगणना का शुरू करने को कहा है। सबसे पहले पोस्टल बैलट गिने जाएंगे। फिर ईवीएम खुलेगी। 14 टेबल पर मत पत्रों की गिनती शुरू होगी।

बिना आईकार्ड के प्रवेश नहीं

बाजार समिति स्थित मतगणना स्थल पर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं। सुरक्षा के लिए त्रिस्तरीय व्यवस्था की जाएगी जिससे मतगणना स्थल पर अनधिकृत और अनावश्यक भीड़ का प्रवेश न हो । किसी भी गणना एजेंट, अभिकर्ता को बिना पहचान पत्र के प्रवेश नहीं दिया जाएगा। मतगणना के लिए कार्मिकों , प्रत्याशियों और उनके अभिकर्ताओं को फोटो पहचान पत्र जारी किया जाएगा मतगणना के लिए गणना पर्यवेक्षक और सहायक का चयन रेंडमाइजेशन के आधार पर होगा। यह रेंडमाइजेशन ऑब्जर्वर और जिला निर्वाचन पदाधिकारी के स्तर पर सुबह पांच बजे किया जाएगा।

सुबह सात बजे खुलेंगे काउंटिंग रूम

मतगणना दिवस को संग्रहण कक्ष सहायक रिटर्न अधिकारी द्वारा अभ्यर्थी और उनके द्वारा नियुक्त प्रतिनिधि के समक्ष पर्यवेक्षक की उपस्थिति में सुबह 7 बजे खोले जाएंगे। इस पूरी प्रक्रिया की समुचित वीडियोग्राफी होगी।

हर राउंड की मिलेगी रिपोर्ट

गणना हाल में सभी टेबलों पर एक राउंड पूर्ण होने के बाद ही अगला राउंड प्रारंभ किया जाएगा टेबल वाइस व राउंड वाइज परिणाम मतगणना स्थल पर प्रदर्शित किया जाएगा, इसके लिए गणना हाल में एक बोर्ड लगाया जाएगा जिस पर समस्त सूचना राउंड वॉइस प्रदर्शित की जाएगी।।

ऐसे होगी पोस्टल बैलट की गिनती

लोकसभा चुनाव के दौरान क्यूआरकोड का इस्तेमाल किया गया है। मतगणना स्थल पर अलग में क्यूआर कोड के स्केनर सहित अन्य मशीनें होंगी। सबसे पहले 13 सी, फिर 13 ए और अंत में 13 बी लिफाफा खोला जाएगा। हर लिफाफे के क्यूआर कोड को स्कैन किया जाएगा। मतगणना के बाद उसी पैटर्न पर इसे रखा जाएगा। मतगणना में इस बारे देरी की संभावना को देखते हुए कार्मिकों और पदाधिकारियों की दो शिफ्टों में होगी । रिजर्व में भी पदाधिकारी और कर्मी रखे जाएंगे। मालूम हो कि बाजार समिति प्रांगण में दो संसदीय क्षेत्र की मतगणना की प्रक्रिया पूरी की जाएगी। सारण के निर्वाची पदाधिकारी एडीएम शंभू शरण पांडेय हैं तो महाराजगंज के निर्वाची पदाधिकारी डीएम अमन समीर है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।