ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार छपरानौ दिवसीय विष्णु महायज्ञ के लिए निकाली गयी भव्य कलश शोभा यात्रा

नौ दिवसीय विष्णु महायज्ञ के लिए निकाली गयी भव्य कलश शोभा यात्रा

में नौ दिवसीय विष्णु महायज्ञ को लेकर निकली भव्य कलश शोभा यात्रा मशरक, एक संवाददाता। मशरक के चरिहारा गांव में राम-जानकी शिव मंदिर परिसर में नौ कुण्डीय विष्णु महायज्ञ के पहले दिन यज्ञ मंडप में...

नौ दिवसीय विष्णु महायज्ञ के लिए निकाली गयी भव्य कलश शोभा यात्रा
हिन्दुस्तान टीम,छपराTue, 28 May 2024 09:45 PM
ऐप पर पढ़ें

18 - मशरक के चरिहारा में नौ दिवसीय विष्णु महायज्ञ को लेकर निकली भव्य कलश शोभा यात्रा
मशरक, एक संवाददाता। मशरक के चरिहारा गांव में राम-जानकी शिव मंदिर परिसर में नौ कुण्डीय विष्णु महायज्ञ के पहले दिन यज्ञ मंडप में पूजा-अर्चना के बाद भव्य कलश शोभा यात्रा निकाली गई जो महायज्ञ मंडप से चरिहारा गांव, चैनपुर गांव होते हुए सूर्य मंदिर परिसर में पहुंची। आचार्य श्री श्री 1008 राम अनुग्रह दास जी महाराज के मौजूदगी में आचार्य श्रतुराज शास्त्री और राकेश महाराज ने विधिवत मंत्रोच्चार से घोघरी नदी से कलश में जलबोझी करायी। विष्णु महायज्ञ 6 जून तक चलेगा। महायज्ञ में ख्यातिलब्ध कथावाचक एवम प्रवचनकार्य शामिल हो रहे है। विष्णु महापुराण का भव्य आयोजन होगा। कलश शोभा यात्रा में मौके पर थाना पुलिस और स्वास्थ्य विभाग एम्बुलेंस टीम के साथ मौजूद रहे। शोभा यात्रा में अखिलेश सिंह, शैलेश सिंह, बिनय सिंह, पुटुक सिंह, रामकिशोर साह, कृष्णा सिंह, अजय सिंह, धनई सिंह, बिट्टू कुमार, बृजकिशोर सिंह, अनुज कुमार, नवलेश सिंह, विवेक कुमार, कुंदन कुमार, संजय सिंह, राजू सिंह , राकेश सिंह, राजीव सिंह, रंजन कुमार सिंह सहित सैकड़ों लोग शामिल हुए ।

दरियापुर में अष्ट्याम के लिए कलश यात्रा निकाली गई

8 दरियापुर में अष्ट्याम के लिए निकाली गई कलश में शामिल श्रद्धालु

दरियापुर। दरियापुर बाजार स्थित शिव मंदिर परिसर में आयोजित होने वाले अखंड अष्ट्याम को लेकर मंगलवार को भव्य कलश यात्रा निकाली गई। सैकड़ों की संख्या में महिला पुरुष श्रद्धालु गाजे बाजे के साथ पास के पोखरे पर पहुंचे। फिर कलश में जल भर कर वैदिक मंत्रोच्चार के साथ अष्ट्याम मंडप में स्थापित किए। गौरतलब हो कि यहां पुराने शिव मंदिर का लाखों रुपए की लागत से जीर्णोद्धार किया गया है। साथ ही यहां भगवान शिव के अलावा कई देवी -देवताओं की भी प्रतिमाएं भी स्थापित की गई है। इसी उपलक्ष्य में अखंड अष्ट्याम का आयोजन किया गया है। कलश यात्रा में स्थानीय जिला पार्षद जफर इकबाल,मुखिया गणेश पंडित, मदन प्रसाद गुप्ता, अजय शर्मा, गीता देवी, बबिता देवी, पूजा कुमारी, रागनी कुमारी, बेबी कुमारी, अर्चना कुमारी, प्रतिमा कुमारी,सुनीता कुमारी,मीना देवी आदि श्रद्धालुओं ने भाग लिया।

पिरारी गांव में संत शिरोमणि के परिनिर्माण दिवस पर हुआ सत्संग समारोह

6 - जलालपुर के पिरारी गांव में सोमवार की रात सत्संग करते संत

जलालपुर/ कोपा, एक प्रतिनिधि। प्रखंड के पिरारी गांव में संत शिरोमणि श्री साहेब बाबा के परम् शिष्य संत राजुल साहेब व संत लक्ष्मी साहेब के परिनिर्वाण दिवस के अवसर पर सत्संग महोत्सव का आयोजन सोमवार की रात में किया गया। सत्संग में संतों ने गुरु और शिष्य की परंपरा के बारे में जानकारी दी। साहिब दरबार के पीठाधिपति ने कहा कि हर व्यक्ति का आचरण इस प्रकार होना चाहिए कि जाने के बाद लोग याद करें, आने का इंतजार करें और मिलने के बाद प्रेम करें। जो व्यक्ति अपने को इस प्रकार बना लेता है उसे गुरू की कृपादृष्टि मिल जाती है। इस सांसारिक जीवन में ईश्वर की कृपा हो तो ठीक है। परंतु नहीं हो तो उतना अहित नहीं होता है जितना गुरु की कृपा नहीं मिलने से होती है। इसलिए हर व्यक्ति पर गुरु की कृपा जरूरी है क्योंकि गुरु की कृपा व दया के बिना सारी बुद्धि या ज्ञान चेतना नष्ट हो जाती है। पिरारी गांव निवासी मनन जी द्वारा आयोजित सत्संग में आचार्य संतोष द्विवेदी ने विधिवत पूजन व श्रृंगार आरती करके संपन्न कराया। समारोह में मुरारी त्यागी, महंत रोशन साहेब, देवशरण दास, रामहर्ष साहेब, संत रामानंद साहेब, साधुशरण साहेब, ज्ञान साहेब, महंत लक्षण साहेब, संत गुलाब बाबा, डॉ.अशोक पाण्डेय, डॉ. संजीव कुमार सिंह, छोटू व अन्य थे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।