DA Image
12 जुलाई, 2020|8:47|IST

अगली स्टोरी

बक्सर में हड़ताली शिक्षकों ने भरी हुंकार, हर हाल में लेंगे वेतनमान

बक्सर में हड़ताली शिक्षकों ने भरी हुंकार, हर हाल में लेंगे वेतनमान

जिला शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के बैनर तले पुराने नियमित शिक्षकों की भांति वेतनमान व सेवाशर्त को लेकर नियोजित शिक्षकों की हड़ताल दूसरे दिन भी जारी रहा। इस दौरान स्कूलों में ताले लटके रहे। पठन-पाठन का कार्य पूरी तरह से बाधित रहा। हड़ताल के दूसरे दिन भी शिक्षकों ने जिला मुख्यालय से लेकर सभी प्रखंड संसाधन केंद्रों पर धरना देकर अपनी मांगों के समर्थन में आवाज बुलंद की। जिला मुख्यालय स्थित कवलदह पोखरा के प्रांगण में दूसरे दिन भी शिक्षकों ने धरना दिया, जिसकी अध्यक्षता वेदपाल सिंह व संचालन जितेंद्र कुमार ने की।शिक्षकों को संबोधित करते समिति के संयोजक राम अवतार पांडेय ने कहा कि सरकारी तंत्र के द्वारा इतनी ज्यादा संख्या में दमानात्मक पत्र जारी करना ही हमारी पहली सफलता है। इस दमनात्मक कार्रवाई से शिक्षक डरने वाले नहीं हैं। कहा कि सरकार को हमारी मांगों को मानना ही पड़ेगा, अन्यथा शिक्षक भी सरकार की विदाई करने के लिए तैयार हैं। अन्य वक्ताओं ने कहा कि यह लड़ाई केवल शिक्षकों की नहीं है, बल्कि शिक्षा को बचाने की है। इसमें सभी को सहयोग करना चाहिए। आने वाली पीढ़ी हमें कभी माफ नहीं करेगी।धरना स्थल पर शिक्षकों ने जमकर सरकार के विरोध में नारेबाजी की। इस दौरान लेकर रहेंगे वेतनमान, छीन कर लेंगे वेतनमान, लड़कर लेंगे वेतनमान समेत अन्य नारे लगते रहे। इसके साथ ही शिक्षकों ने संगीत व कविता के माध्यम से आंदोलन में जान फूंकने का काम किया। धरना को संबोधित करने वाले में लाल नारायण राय, लाल बाबू मिश्र, अजय कुमार सिंह, संजय उपाध्याय, धनंजय मिश्र, रवि शंकर राय, हरेराम राय, सुरेंद्र सिंह, गोपालजी राय, गजेंद्र तिवारी, जय प्रकाश कुमार, अजय कुमार पांडेय, अनंत कुमार, मुकेश कुमार, रविकांत सिंह, संगीता पांडेय, उमा कुमारी, अशोक मिश्र, मुरलीधर सिंह समेत अन्य शामिल थे। सभी ने अपनी बातों को रखा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Striking teachers shouted in Buxar will pay in any case