ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहार बक्सरमेला व सैरातों की बंदोबस्ती में दिलचस्पी नहीं दिखा रहा नगर पंचायत

मेला व सैरातों की बंदोबस्ती में दिलचस्पी नहीं दिखा रहा नगर पंचायत

गड़बड़झाला नीलामी करने कार्यालय नहीं पहुंचे अधिकारी व सदस्य नगर पंचायत की भूमिका को लेकर सवाल भी उठने लगे ब्रह्मपुर, निज संवाददाता। फाल्गुन माह की महाशिवरात्रि के अवसर पर यहां लगने वाले प्राचीन पशु...

मेला व सैरातों की बंदोबस्ती में दिलचस्पी नहीं दिखा रहा नगर पंचायत
हिन्दुस्तान टीम,बक्सरWed, 21 Feb 2024 09:30 PM
ऐप पर पढ़ें

गड़बड़झाला
नीलामी करने कार्यालय नहीं पहुंचे अधिकारी व सदस्य

नगर पंचायत की भूमिका को लेकर सवाल भी उठने लगे

ब्रह्मपुर, निज संवाददाता। फाल्गुन माह की महाशिवरात्रि के अवसर पर यहां लगने वाले प्राचीन पशु मेला तथा सैरातों की बंदोबस्ती में नगर पंचायत उदासीन नजर आ रहा है। इससे नीलामी में भाग लेने वाले लोगों की परेशानी बढ़ती जा रही है। वही इस मामले में नगर पंचायत की भूमिका को लेकर सवाल भी उठने लगे हैं।

फाल्गुनी व बैसाखी पशु मेले की नीलामी के लिए नगर पंचायत द्वारा 21, 22 व 23 फरवरी की तिथि निर्धारित की गई है। पहले दिन नीलामी लेने के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए कुछ इच्छुक लोग नगर पंचायत के सभागार में निर्धारित समय पर पहुंच गए थे। लेकिन वहां न तो अधिकारी थे न ही नगर पंचायत के वैसे सदस्य जिन्हें इसमें उपस्थित रहना था। इसके बाद सभी निराश होकर मायूस लौट गए। उनका कहना था कि जब नीलामी के लिए नोटिस प्रकाशित कराया गया है तो वहां अधिकारी व नगर पंचायत के सदस्यों को उपस्थित रहना चाहिए था। देखना अब यह है कि दूसरे दिन गुरुवार को भी इसके लिए कोई वहां मौजूद रह पाता है या नहीं। नीलामी के पहले दिन अधिकारी व सदस्यों की अनुपस्थिति उनकी उदासीनता को दर्शा रहा था।

दो बार स्थगित हो चुकी है सैरातों की बंदोबस्ती

इसी तरह वर्ष 2024-25 के लिए नगर पंचायत के सैरातों बंदोबस्ती भी दो बार स्थगित की जा चुकी है। दोनों बार बंदोबस्ती स्थगित होने का कारण नगर परिषद की मुख्य पार्षद व स्थाई सशक्त कमेटी के सदस्यों के उपस्थित नहीं होने को बताया गया। जबकि बंदोबस्ती में शामिल होने के लिए पांच लोग एन आर रसीद कटवा कर रोजाना नगर पंचायत का चक्कर लगा रहे हैं। उनका कहना है कि नगर पंचायत सैरातों की बंदोबस्ती में पारदर्शिता नहीं रखना चाह रहा है। इसीलिए बिना कोई ठोस कारण के सैरातों की बंदोबस्ती को दो दिन स्थगित कर दिया गया। इसके लिए अब 6 मार्च की अगली तिथि निर्धारित की गई है। देखना अब यह होगा कि उस दिन भी सैरातों की बंदोबस्ती हो पाती है या फिर स्थगित कर दी जाती है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें