ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार बक्सर दिव्यांगता को अभिषाप नहीं वरदान बनाएं: उदय नारायण

दिव्यांगता को अभिषाप नहीं वरदान बनाएं: उदय नारायण

दिव्यांगता देता है तो उसके साथ उस व्यक्ति को अतिरिक्त समझ और शक्ति भी देता है। पूर्व विधानसभा अध्यक्ष शुक्रवार को किला मैदान में जिला दिव्यांग पुर्नवास केंद्र की ओर से विश्व दिव्यांग दिवस के अवसर पर...

  दिव्यांगता को अभिषाप नहीं वरदान बनाएं: उदय नारायण
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,बक्सरSat, 04 Dec 2021 11:20 AM

बक्सर। हिन्दुस्तान संवाददाता

पूर्व विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने कहा कि दिव्यांगता कोई अभिषाप नहीं है। इच्छा शक्ति के बल पर कई दिव्यांग भाई और बहनों ने देश-विदेश में परचम लहरा चुके हैं। अगर आप दिव्यांग हैं तो अपने को कमजोर नहीं समझे। ईश्वर दिव्यांगता देता है तो उसके साथ उस व्यक्ति को अतिरिक्त समझ और शक्ति भी देता है। पूर्व विधानसभा अध्यक्ष शुक्रवार को किला मैदान में जिला दिव्यांग पुर्नवास केंद्र की ओर से विश्व दिव्यांग दिवस के अवसर पर आयोजित दिव्यांग प्रतियोगिता सह सम्मान समारोह कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि दिव्यांगों की समस्याओं के समाधान और दिव्यांग पेंशन बढ़ाने के लिए सरकार को पत्र लिखेंगे। दिव्यांगता को अभिषाप नहीं बल्कि वरदान बनाएं।

कार्यक्रम का संयोजन विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी रहे युवा शक्ति के संयोजक रामजी सिंह ने किया। उन्होंने कहा कि बहुत जल्द ही पुर्नवास केंद्र पर भवन निर्माण का कार्य शुरु किया जाएगा। भवन निर्मित होने के बाद यहां पर दिव्यांग मुफ्त ठहरेंगे और उनके लिए भोजन की व्यवस्था भी नि:शुल्क रहेगी। राजद के जिलाध्यक्ष शेषनाथ सिंह ने मौजूद दिव्यांगों की हौसला अफजाई की और कहा कि आप कमजोर नहीं हैं। कुछ दल के लोग आप सबों को ठगने का काम करते हैं, वैसे लोगों से सावधान रहने की आवश्यकता है।

कार्यक्रम के दौरान दिव्यांगों के बीच ट्राई साइकिल रेस समेत अन्य प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में अव्वल आने वाले दिव्यांगों को मेडल देकर सम्मानित किया गया। मौके पर सन्तोष भारती, गुड्डू गंवार, अर्जुन यादव, नियमतुल्लाह फरीदी, वार्ड पार्षद अनूप वर्मा के अलावा दिव्यांग संघ के अध्यक्ष जितेंद्र ठाकुर, प्रमोद केशरी, तारकेश्वर प्रसाद, दिलीप राम, प्रिंस ईदरिशी, पप्पू जायसवाल, पिंटू वर्मा, प्रिंस, रेहान, अगस्त पाठक, विकास समेत सैकड़ों दिव्यांग मौजूद थे।

epaper