DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  बक्सर  ›  अच्छी पहल: सूबे में मनरेगा से मानव दिवस सृजन में बक्सर जिला दूसरे पायदान पर
बक्सर

अच्छी पहल: सूबे में मनरेगा से मानव दिवस सृजन में बक्सर जिला दूसरे पायदान पर

हिन्दुस्तान टीम,बक्सरPublished By: Newswrap
Sun, 13 Jun 2021 10:30 AM
अच्छी पहल:   सूबे में मनरेगा से मानव दिवस सृजन में बक्सर जिला दूसरे पायदान पर

चौसा। संवाद सूत्र

महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत कराए जाने वाले विभिन्न कार्यों में बक्सर जिला ने बेहतर प्रदर्शन करते हुए पूरे राज्य में दूसरा स्थान हासिल किया है। ग्रामीण विकास विभाग ने मासिक समीक्षा और मूल्यांकन के बाद राज्य के सभी 38 जिलों के मनरेगा के द्वारा कराए गए विभिन्न कार्यों के आधार पर रैंकिंग प्रदान की है। इसकी सूची शनिवार को जारी की गई है। इस सूची में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की वजह से पूर्वी चम्पारण को पहला स्थान हासिल हुआ है। जबकि सबसे खराब प्रदर्शन करने के कारण पड़ोसी जिला रोहतास को सबसे अंतिम 38 वां रैंक प्रदान किया गया है।

मानव दिवस सृजन में बक्सर ने किया उत्तम प्रदर्शन:

विभाग के द्वारा की गई समीक्षा और मूल्यांकन में बक्सर जिला ने मानव दिवस सृजन में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। मई-2021 तक मानव दिवस सृजन के लिए बक्सर जिला को 6,68,604 मानव दिवस का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। बक्सर ने इस लक्ष्य से भी आगे बढ़कर काम करते हुए 6,77,146 मानव दिवस सृजन कर 101.28 फीसदी सफलता हासिल की है।

ईएमआर में पायी 97.77 फीसदी कामयाबी:

मनरेगा में काम करने वाले जॉब कार्डधारी मजदूरों के लिए बनाए जाने वाले ईएमआर के लिए बक्सर जिला के सभी मनरेगा कार्यालय को 24,117 ईएमआर बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। इसमे इस जिला ने 23,578 ईएमआर जारी कर 97.77 फीसदी सफलता हासिल की है।

वर्तमान वित्तीय वर्ष में 2102 योजना की गई पूरी:

इसके अलावा जल, जीवन और हरियाली में भी बक्सर जिले का प्रदर्शन ठीक ठाक है। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत ली चयनित किए गए 4,136 आवासों में से 3,626 पर काम शुरू किया गया है, जबकि 510 पर काम अभी शुरू किया जाना है। इस वित्तीय वर्ष में मनरेगा के द्वारा 11,796 योजना स्वीकृत की गई है। इसमे 2102 योजना पर काम पूरा कर लिया गया है। इस प्रकार 66.66 फीसदी स्कोर के साथ बक्सर जिला को दूसरा स्थान और 67.03 फीसदी अंक के साथ पुर्वी चम्पारण को पहला स्थान हासिल हुआ है।

कोट

मनरेगा से जिले में तेजी से कार्य कराए जा रहे हैं। लॉक डाउन के दौरान आनेवाले प्रवासियों को भी अधिक से अधिक कार्य देकर सभी तरह के कार्य कराए जा रहे हैं। इसके लिए सभी प्रखंडों को निर्देश पहले से ही दिया जा चुका है। जॉब कार्ड देने क साथ ही कार्य को कराया जा रहा है। इसमें मिट्टी से कराए जानेवाले कार्य के अलावा अन्य कार्य भी हो रहे हैं।

- अमन समीर , डीएम।

संबंधित खबरें