ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार बक्सरकिसानों को धरना-प्रदर्शन बंद करने का दिया अल्टीमेटम

किसानों को धरना-प्रदर्शन बंद करने का दिया अल्टीमेटम

भेजा नोटिस 13 नवम्बर तक धरना और प्रदर्शन समाप्त करने का निर्देश किसानों ने कहा कि वे लोकतांत्रिक तरीके से धरना दे रहे हैं चौसा, संवाद सूत्र। यहां निर्माणाधीन ताप विद्युत परियोजना हेतु वाटर पाइप लाइन...

किसानों को धरना-प्रदर्शन बंद करने का दिया अल्टीमेटम
हिन्दुस्तान टीम,बक्सरFri, 11 Nov 2022 08:40 PM
ऐप पर पढ़ें

भेजा नोटिस

13 नवम्बर तक धरना और प्रदर्शन समाप्त करने का निर्देश

किसानों ने कहा कि वे लोकतांत्रिक तरीके से धरना दे रहे हैं

चौसा, संवाद सूत्र। यहां निर्माणाधीन ताप विद्युत परियोजना हेतु वाटर पाइप लाइन और रेलवे कोरिडोर के लिए अधिग्रहित की जा रही जमीन के उचित मुआवजे की मांगों को लेकर पिछले 17 अक्टूबर से अनिश्चितकालीन धरना करने वाले किसानों को सदर एसडीओ धीरेन्द्र कुमार मिश्रा ने अल्टीमेटम दिया है। नोटिस जारी कर हर हाल में 13 नवम्बर तक धरना और प्रदर्शन समाप्त करने का निर्देश दिया है। ऐसा नहीं करने पर कहा है कि सभी किसानों को धरनास्थल से बलपूर्वक हटा दिया जाएगा और दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।

वहीं इस मामले किसानों ने एसडीएम के द्वारा दिए गए नोटिस पर कहा कि हम लोग अपनी जायज मांगों के लिए लोकतांत्रिक तरीके से शांतिपूर्ण ढंग से धरना दे रहे हैं। इतने दिनों में हम लोगों से कभी किसी प्रशासनिक और कंपनी के अधिकारियों ने बातचीत भी नहीं की है। किसानों ने कहा कि बातचीत के माध्यम से मामले को हल करने के बजाय प्रशासन जोर जबरदस्ती पर उतारू है। किसानों ने स्पष्ट रुप से कहा कि हमे अपनी जमीन की जायज कीमत मिलनी चाहिए। 2013 में निर्धारित किए गए जमीन के रेट का मूल्यांकन कर रेट बढ़ाया जाए। यह किसानों के हित में होगा।

26 वें दिन भी धरना में बैठे रहे किसान

चौसा। प्रभावित किसान खेतिहर मजदूर मोर्चा के द्वारा अपनी मांगों को लेकर विगत 17 अक्टूबर से शुरू किया गया अनिश्चितकालीन धरना शुक्रवार को 26 वें दिन भी जारी रहा। शुक्रवार को आयोजित धरने में राम व्यास तिवारी, अनिल तिवारी, रामप्रवेश यादव, शैलेश राय, संत विलास उपाध्याय, राजेश तिवारी, संतोष कुमार व मनोज कुमार थे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।