DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › बक्सर › सीट कम होने से अंगीभूत कॉलेज में नामांकन सपना रह जाएगा अधूरा
बक्सर

सीट कम होने से अंगीभूत कॉलेज में नामांकन सपना रह जाएगा अधूरा

हिन्दुस्तान टीम,बक्सरPublished By: Newswrap
Sun, 01 Aug 2021 10:50 AM
सीट कम होने से अंगीभूत कॉलेज में नामांकन सपना रह जाएगा अधूरा

बक्सर। हिन्दुस्तान संवाददाता

इंटर की परीक्षा का नतीजा आने के बाद ग्रेजुएशन करने के लिए छात्र-छात्राओं को नामांकन को लेकर कॉलेजों में भटकना पड़ सकता है। बक्सर जिले के बक्सर और डुमरांव अनुमंडल में वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय, आरा से संबद्ध महज एक-एक कॉलेज ही है। इन दो कॉलेजों में छात्र-छात्राओं के लिए लिए सीट कम पड़ जाएगी।

जिला शिक्षा विभाग से मिली जानकारी के अनुसार, इंटर परीक्षा 2020-21 में कुल परीक्षार्थियों की संख्या 23 हजार 1 सौ 92 थी। इसमें छात्रों की संख्या 12 हजार 1 सौ 25 और छात्राओं की संख्या 11 हजार 67 थी। विभाग के पास इनमें कितने छात्र-छात्राओं ने परीक्षा पास की है इसका आंकड़ा उपलब्ध नहीं है। लेकिन, सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अस्सी फीसदी छात्र-छात्राओं ने परीक्षा पास की है। बता दें कि कोरोना काल में छात्र और उनके अभिभावक बच्चों को पढ़ाई के लिए बाहर नहीं भेज रहे। अधिकांश अभिभावक और छात्र अपने जिले के ही वीकेएसयू, आरा से अंगीभूत कॉलेजों में ही दाखिला दिलाने के चक्कर में हैं। इसका मुख्य कारण कोरोना के चलते बाहर में कॉलेज और कोचिंगों का बंद होना है।

स्थानीय एमवी कॉलेज में कला और विज्ञान संकाय की पढ़ाई होती है। कॉलेज के सूत्रों के अनुसार कला संकाय में नामांकन के लिए महज 1836 और विज्ञान संकाय में 790 सीट है। नामांकन के लिए प्रयाप्त सीट के विरुद्ध इंटर परीक्षा पास करने वाले छात्राओं की संख्या आठ गुना अधिक है। ऐसे में छात्र-छात्राओं को एमवी कॉलेज के अलावा संचालित अन्य कॉलेजों में ही नामांकन लेना पड़ेगा।

एमवी कॉलेज में ऑनलाइन जमा हो रहा आवेदन:

चरित्रवन स्थित एमवी कॉलेज में बीए के नामांकन के लिए वीकेएसयू, आरा के पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन लिया जा रहा है। जानकारी के अनुसार अभ्यर्थी वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय, आरा से अंगीभूत महर्षि विश्वामित्र महाविद्यालय में नामांकन के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। नामांकन फॉर्म भरने के दौरान छात्र-छात्राओं को सतर्कता बरतनी होगी, जिससे गलती होने की संभावना कम हो। वैसे अभ्यर्थी अपने यूजर आईडी और पासवर्ड का उपयोग कर गलतियों में सुधार कर सकते हैं।

संबंधित खबरें