ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहार बक्सरएनीमिया मुक्त भारत कार्यक्रम के तहत आशा हुई प्रशिक्षित

एनीमिया मुक्त भारत कार्यक्रम के तहत आशा हुई प्रशिक्षित

शिविर 6 से 59 माह के बच्चों को आईएफए सिरप पिलाएंगी आशा 20 से 49 साल की महिला को सप्ताह में एक गोली खिलाएं डुमरांव, निज संवाददाता। एनीमिया मुक्त भारत कार्यक्रम को लेकर गुरूवार को प्रखंड संसाधन...

एनीमिया मुक्त भारत कार्यक्रम के तहत आशा हुई प्रशिक्षित
हिन्दुस्तान टीम,बक्सरThu, 01 Feb 2024 08:30 PM
ऐप पर पढ़ें

शिविर
6 से 59 माह के बच्चों को आईएफए सिरप पिलाएंगी आशा

20 से 49 साल की महिला को सप्ताह में एक गोली खिलाएं

डुमरांव, निज संवाददाता। एनीमिया मुक्त भारत कार्यक्रम को लेकर गुरूवार को प्रखंड संसाधन केन्द्र पर प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में आशा कार्यकर्ताओं को इसके संबंध में पूरी जानकारी दी गई। उन्हें बताया गया कि 6 से 59 माह के बच्चों को आईएफए सीरप एक एमएल सप्ताह में दो दिन पिलाएंगी। इसके अलावा 5 से 9 साल के बच्चों को आईएफए के पीक गोली सप्ताह में एक बार खिलाई जाएगी। सभी प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक कक्षा एक से पांच तक के बच्चों को सप्ताह में एक बार पीक आईएफए की गोली खिलाएंगे। वहीं, 10 से 19 साल के किशोर-किशोरियों को आईएफए की नीली गोली बुधवार को विद्यालय में और 20 से 49 साल की महिलाओं को प्रत्येक सप्ताह एक लाल आईएफए की गोली टीकाकरण वाले को दिया जाता है। गर्भवती और दूध पिलाने वाली माताओं को आईएफए की लाल गोली प्रत्येक दिन देना है। वहीं, वर्ष में दो बार किशोर-किशोरियों को एल्बेंडाजॉल 400 एमजी की गोली स्कूल व आंगनबाड़ी केन्द्र पर दी जाएगी। कार्यक्रम का उद्देश्य एनीमिया के स्तर को कम करना है। प्रशिक्षण के दौरान नोडल शिक्षक की अनुपस्थिति चर्चा का विषय बना रहा। बताया गया कि एनेमिक मरीजों को चिन्हित करते हुए आयरन फोलिक एसिड की गोली दी जाएगी। मौके पर राहुल कुमार, अक्षय कुमार, दीप्ति पांडेय, रामेश्वर राय, ओम प्रकाश राय, निर्मल कुमार, अनीता यादव व अलाउद्दीन थे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें