DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  बक्सर  ›  बुलंद हौसले से पाई जा सकती है कोई भी मुकाम- दिव्या
बक्सर

बुलंद हौसले से पाई जा सकती है कोई भी मुकाम- दिव्या

हिन्दुस्तान टीम,बक्सरPublished By: Newswrap
Fri, 18 Jun 2021 10:40 AM
  बुलंद हौसले से पाई जा सकती है कोई भी मुकाम- दिव्या

नावानगर। एक संवाददाता

बुलंद हौसले व दृढ़ इच्छा शक्ति से व्यक्ति कोई भी मुकाम हाशिल कर सकता है। मन मे लगन व बड़ों का आशीर्वाद हो तो कठिन से कठिन कार्य भी आसान हो जाते हैं। साथ ही किसी भी क्षेत्र में लड़कियां लड़कों से कम नहीं है। इसको चरितार्थ कर दिखाया है, नावानगर गांव के पान विक्रेता विनोद प्रसाद की बेटी दिव्या ने। जो गुरुवार को प्रकाशित बिहार पुलिस सब इंसपेक्टर परीक्षा की अंतिम मेधा सूची में सफलता पाई है।

दिव्या कुमारी नावानगर गांव निवासी विनोद प्रसाद की पुत्री हैं। पिता नावानगर बाजार में गुमटी पर पान बेचकर परिवार का खर्च चलाते हैं। माता गीता देवी एक कुशल गृहिणी हैं। बेटी की इस सफलता से माता-पिता काफी गौरवान्वित हैं। इसके साथ ही गांव के लोग भी दिव्या की इस सफलता से काफी खुश हैं। दिव्या बताती है, कि उसकी प्रारंभिक शिक्षा स्थानीय स्तर पर ही हुई है। नावानगर है स्कूल से इंटर की परीक्षा पास करने बाद वह सुमित्रा कॉलेज, डुमरांव से ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त की। शुरू से ही वह पुलिस अधिकारी बनने की सपना संजोए हुए थी। जिसमे उसे सफलता मिल ही गई। एस आई बनकर वह समाज की सेवा करनी चाहती है। साथ ही पिता के माता-पिता की बोझ कम कर उनकी कंधा मजबूत करने की इरादा रखती है। इस सफलता पर गांव व समाज के लोगों ने उसे सम्मानित कर प्रोत्साहित किया।

संबंधित खबरें