DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › बक्सर › बेहतर उत्पादन के लिए तकनीकी के प्रयोग को अपनाएं: डॉ. एन सरवण
बक्सर

बेहतर उत्पादन के लिए तकनीकी के प्रयोग को अपनाएं: डॉ. एन सरवण

हिन्दुस्तान टीम,बक्सरPublished By: Newswrap
Sun, 26 Sep 2021 09:10 AM
  बेहतर उत्पादन के लिए तकनीकी के प्रयोग को अपनाएं: डॉ. एन सरवण

बक्सर। हिन्दुस्तान संवाददाता

कृषि विभाग, बिहार सरकार के सचिव डॉ. एन सरवण कुमार ने शनिवार को केंद्र के प्रयोगिक प्रक्षेत्र भ्रमण के दौरान कृषि विज्ञान केन्द्र, बक्सर की ओर से से जिलें मे संचालित जलवायु अनुकूल कृषि कार्यक्रम के तहत किए गये कार्यों निरीक्षण किया। केन्द्र मे किसानों के बीच प्रदर्शन व जागरूकता के लिए स्थापित विभिन्न इकाईयां जैसे एकीकृत कृषि प्रणाली, धान के प्रभेदों का गुणवत्तायुक्त बीज उत्पादन, धान सह मत्स्य पालन इकाई, केचूंआ खाद उत्पादन, बीज प्रसंस्करण सह भंडारण आदि प्रायोगिक परीक्षण इकाई का भी जायजा लिया। इस दौरान सचिव डॉ. सरवण एवं जिलाधिकारी अमन समीर ने पौधरोपण किया।

मौके पर प्रक्षेत्र के एक्सपोजर विजिट कार्यक्रम से जुड़े अंगीकृत गांवों के किसान, अतिथिगणों व पटना संस्थान के निदेशक समेत आए अन्य कृषि वैज्ञानिक व केन्द्र के विशेषज्ञों के साथ मुख्य अतिथि की अध्यक्षता मे एक बैठक का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन सचिव, कृषि विभाग डॉ. एन सरवण कुमार, विशेष्ट अतिथि जिलाधिकारी अमन समीर अमन समीर, डीडीसी योगेश कुमार सागर, निदेशक, भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद का पूर्वी अनुसंधान परिसर पटना, डॉ. उज्ज्वल कुमार तथा जलवायु अनुकूल कृषि कार्यक्रम बिहार के नोडल अधिकारी डॉ. अनिल कुमार झा ने संयुक्त रूप से द्वीप प्रज्ज्वलित कर किया। सचिव, कृषि विभाग तथा मुख्य अतिथि डॉ. एन सरवण ने जिले के किसानों को बेहतर तकनीकी के प्रयोग को अपनाने की सलाह दी तथा कार्यक्रम के माध्यम से तकनीकियों के विस्तार पर बल दिया।

केद्र के कार्य कलाप की दी जानकारी

डॉ. उज्ज्वल ने केन्द्र की क्रियाकलापों की संक्षिप्त जानकारी उपस्थित प्रतिभागियों को दी। डीएम ने केन्द्र के प्रक्षेत्र एवं तकनीकी को जिला कृषि एवं आत्मा के माध्यम से किसानों को प्रायोगिक भ्रमण द्वारा ज्यादा से ज्याद प्रेरित करने की बात कही। उप विकास आयुक्त योगेश कुमार ने भी कार्यक्रम के माध्यम से अल्पअवधि की अच्छी उपजवाली प्रभेदों को किसानों के बीच लोकप्रिय करने पर बल दिया। कार्यक्रम मे उपस्थित उप-निदेशक तथा जलवायु अनुकूल कृषि कार्यक्रम, बिहार के नोडल अधिकारी डॉ. अनिल कुमार झा ने राज्य मे चल रहे कार्यक्रम की जानकारी दी। केन्द्र द्वारा प्रक्षेत्र पर प्रदर्शित अल्पअवधि की अच्छी उपजवाली धान प्रभेद सीओ-51 की तकनीकी जानकारी परियोजना के अन्वेषक रामकेवल ने प्रस्तुत किया ।

मंच संचालन डॉ. देवकरन ने किया। कार्यक्रम मे रंजीता देवी, रामसुंदर देवी, अनिता देवी, मानसी देवी, चितरंजन तिवारी, बीके तिवारी, हरेराम पाण्डेय समेत 75 से ज्यादा किसानों ने भाग लिया। धन्यवाद ज्ञापन केन्द्र के प्रभारी प्रमुख श्री हरिगोबिंद ने किया। केन्द्र के आरिफ परवेज, रवि चटर्जी, राजेश कुमार राय, अरविंद कुमार, संदीप कुमार आदि ने कार्यक्रम को सफल बनाने में सराहनीय सहयोग किया।

संबंधित खबरें