DA Image
हिंदी न्यूज़ › बिहार › बक्सर › इटाढ़ी में पहले दिन 230 प्रत्याशियों ने दाखिल किए नामजदगी के पर्चे
बक्सर

इटाढ़ी में पहले दिन 230 प्रत्याशियों ने दाखिल किए नामजदगी के पर्चे

हिन्दुस्तान टीम,बक्सरPublished By: Newswrap
Sun, 26 Sep 2021 09:10 AM
  इटाढ़ी में पहले दिन 230 प्रत्याशियों ने दाखिल किए नामजदगी के पर्चे

इटाढ़ी। संवाद सूत्र

चौथे चरण में होने वाले प्रखण्ड के पंचायत चुनाव को लेकर सोमवार से नामांकन का प्रारंभ हो गया। पहले दिन सोना देवी, प्रीति देवी, छठू राम सहित 22 अभ्यर्थियों ने मुखिया पद के लिए नामांकन किया। जबकि, मनोज सिंह, राम दयाल सिंह, नीलम देवी सहित 19 अभ्यर्थियों ने सरपंच पद के लिए नामांकन पत्र दाखिल किया। भगमनिया देवी ने बीडीसी पद के लिए नामांकन का पर्चा भरा। बीडीसी पद के लिए कुल 29 प्रत्याशियों ने नामांकन किया। सर्वाधिक नामांकन वार्ड सदस्य में लिये 114 अभ्यर्थियों ने पर्चा भर। वहीं, पंच पद के लिए 46 अभ्यर्थियों ने नामजदगी का परचा भरा। कुल मिलाकर, 230 ने सोमवार को परचा दाखिल किया। इसमें महिलाएं पुरुषों की बराबरी करते दिखीं। जहां 117 पुरुषों ने नामांकन दाखिल किया। वहीं 113 महिलाओं ने अपना नामांकन कर आधी आबादी की कहानी बयां कर गई। काफी चाक चौबंद व्यवस्था में नामांकन कार्य प्रारंभ किया गया। नामांकन के दौरान डीएम भी आईटी भवन पहुंचकर नामांकन कार्य का जायजा लिया। नामांकन के लिए सबेरे से शाम तक अभ्यर्थियों सहित उनके समर्थकों का हुजूम लगा रहा। सड़क पर आवागमन व्यवस्थित करने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। बाजार से लगायत ब्लॉक तक लोगों का रेला रहा।

नामांकन पत्र दाखिल करने के लिए घंटों अपनी बारी का इंतजार करते दिखे अभ्यर्थी

इटाढ़ी। नामांकन दाखिल कराने आये अभ्यर्थियों को घंटों लाइन में खड़ा होकर अपनी बारी का इंतजार करना पड़ा। इस बार डिजिटल तरीके से नामांकन पत्र दाखिल करने के कारण अभ्यर्थियों को काफी परेशानी झेलनी पड़ी। सरवर डाउन होने के कारण अभ्यर्थियों को लाइन में काफी देर से खड़ा रहना पड़ा। इसमें एक कारण पहले दिन का नामांकन भी रहा। पहले दिन के नामांकन के कारण कम्बीनेशन बनाने में भी कुछ समय जाया गया। वहीं 4 बजे नामांकन का समय समाप्त हो जाने के कारण सैकड़ों वार्ड व पंच पद के अभ्यर्थियों को बैरंग वापस लौटना पड़ा। सोमवार को वार्ड व पंच पद पर अभ्यर्थियों के लिए काउंटर बढ़ाने पर विचार किया जा रहा है।

केवल दो लोगों को ही थी प्रवेश की अनुमति

इटाढ़ी। नामांकन करने आये अभ्यर्थियों को कुल मिलाकर 2 लोगों को ही परिसर में प्रवेश करने की अनुमति थी। जिसमें अभ्यर्थी के साथ उसका प्रस्तावक को ही परिसर में प्रवेश की अनुमति दी जा रही थी। नामांकन के लिए बनाये गए सभी टेबल पर वीडियोग्राफी की व्यवस्था की गई थी।। सबसे अधिक वार्ड सदस्य पद के लिए 4 टेबल की व्यवस्था की गई थी। वहीं पंच पद के लिए 2 टेबल की व्यवस्था की गई थी। मुखिया, सरपंच व बीडीसी पद के अभ्यर्थियों के लिए 1-1 टेबल की व्यवस्था की गई थी। परिसर को चारों तरफ से सील कर दिया गया था , जहां पुलिस कर्मियों की तैनाती की गई थी। केवल मुख्य द्वार से ही प्रवेश दिया जा रहा था। जहां ड्रॉप गेट बैरियर बनाया गया है। वहां मजिस्ट्रेट की भी तैनाती की गई है।

हेल्प डेस्क पर नाम निर्देशन पत्रों की जांच कराने व जानकारी लेने के लिए लगी रही भीड़

इटाढ़ी। नामांकन कराने वाले अभ्यर्थियों को परिसर में इंट्री मिलने के बाद सर्व प्रथम हेल्प डेस्क से गुजरना पड़ा। जिस कारण हेल्प डेस्क पर अभ्यर्थियों की भारी भीड़ रही। हेल्प डेस्क पर नामांकन फार्म की जांचोपरांत ही नामांकन करने के लिए अभ्यर्थियों को नामांकन टेबल पर जाना था। बिना वेरिफाई किये नामांकन पत्र टेबल पर नहीं स्वीकार किया जाता था। इसकारण हेल्प डेस्क पर काफी भीड़ देखने को मिली। हेल्प डेस्क पर पदवार वैरिफिकेशन सह पूछ ताछ के लिए कर्मियों की तैनाती की गई थी। वहां अभ्यर्थियों के लिए पानी की भी व्यवस्था की गई थी।

संबंधित खबरें