DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नालंदा में बदमाशों से तंग आ लोगों ने किया एनएच जाम

नालंदा में बदमाशों द्वारा छीन-झपट व छेड़खानी से तंग ग्रामीणों का धैर्य रविवार को जवाब दे गया। वे एनएच 431 हरनौत-चंडी रोड पर उतर गये। बेलछी गांव के पास मार्ग को घंटों जाम कर दिया। लोग पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगा रहे थे। उनका कहना था कि कोई कार्रवाई नहीं होने से बदमाशों के हौसले बढ़ते जा रहे हैं। पोरई गांव के आसपास अक्सर ऐसी घटनाएं होती हैं।

रविवार को भी बदमाशों ने एक युवक से मोबाइल छीन लिया। इससे ग्रामीण गुस्सा हो गये और जाम लगा दिया। कई जनप्रतिनिधि के अलावा चंडी और हरनौत थानों की पुलिस लोगों को समझाने में लगी थी। हालांकि ग्रामीण बदमाशों के खिलाफ कार्रवाई की मांग पर अड़े थे। देर शाम में लोगों ने जाम जोड़ा, जब पुलिस अधिकारियों ने अपराधियों पर नकेल कसने का आश्वासन दिया।

मोबाइल छीनने की सूचना से गरम हुए ग्रामीण:

पोरई गांव के पास रविवार को बदमाशों ने चंडी थाना क्षेत्र के मोकिमपुर गांव निवासी धर्मेन्द्र चौहान से मोबाइल छीन लिया। विरोध करने पर मारपीट की और धमकी देकर उसे भगा दिया। उसने इस घटना की जानकारी ग्रामीणों को दी। इससे ग्रामीण नाराज होकर सड़क पर उतर गये। लोग पुलिस की कार्यशैली से नाराज दिख रहे थे। उनका कहना था कि हर महीने ऐसी घटनाएं हो रही हैं। मोबाइल छीनने की शिकायत को पुलिस गंभीरता से नहीं लेती है। इससे बदमाशों का मन बढ़ गया है। खासकर पोरई व इसके आसपास के गांवों के पास बदमाशों के हौसले काफी बढ़ गये हैं।

मनचलों के डर से छात्राओं ने छोड़ दी साइकिल:

मनचलों के डर से अधिकतर छात्राओं ने साइकिल से स्कूल जाना छोड़ दिया। अभिभावकों का कहना था कि छात्राएं साइकिल को छोड़कर टेम्पो से स्कूल जाती है। इसके बाद भी मनचले बाज नहीं आ रहे हैं। गंदे कमेंट्स करना, अश्लील हरकत करना आम बात है। यही हालत रही तो लड़कियां स्कूल जाना छोड़ देंगी।

1 महीना पहले भी लगाया था जाम :

ऐसी ही एक घटना के विरोध में करीब 1 माह पहले चैनपुर गांव के पास लोगों ने सड़क जाम कर दी थी। उस समय कॉलेज गये दो छात्रों से मारपीट कर मोबाइल व नकद रुपये छीन लिये थे। काफी मशक्कत के बाद लोगों ने जाम हटाया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:nalanda People did nh jam