nalanda: in daylight The young man of fatuha was shot dead in hilsa - नालंदा के हिलसा में फतुहा के युवक की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नालंदा के हिलसा में फतुहा के युवक की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या

गोली मारने के बाद मृतक की बाइक ले भागे बदमाश

हिलसा थाना क्षेत्र के मीना बाजार-राढ़िल छिलका के पास दो बदमाशों ने दिनदहाड़े एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी। मृतक पटना जिला के फतुहा थाना क्षेत्र स्थित महारानी चौक निवासी अर्जुन पासवान के पुत्र धर्मेन्द्र कुमार उर्फ छोटू था। तेल्हाड़ा थाना क्षेत्र के पुरा गांव में दो महीने पहले ही उसकी शादी हुई थी। छोटू मंगलवार की सुबह अपनी ससुराल से लौटकर घर जा रहा था। छोटू और दोनों बदमाश एक ही बाइक पर सवार थे। प्रत्यक्षदर्शियों की माने तो घटनास्थल के पास बाइक रुकी। उसपर सवार दो युवक उतरे। दोनों में कुछ बात हुई और एक युवक ने छोटू के सिर में गोली मार दी। घटना को अंजाम देकर दोनों युवक बाइक पर बैठकर फरार हो गये। बाइक मृतक की थी । सूचना पाकर पुलिस वहां पहुंची और जख्मी को अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया गया।

एक ही बाइक पर सवार थे तीनों:-प्रत्यक्षदर्शियों की माने तो सुबह में राढ़िल छिलका की तरफ से एक बाइक आयी। उसपर तीन युवक सवार थे। ब्रह्मपुरा गांव के पास केबिन के निकट बाइक रुक गयी। चालक बाइक पर ही बैठा रहा, जबकि छोटू और एक अन्य युवक बाइक से नीचे उतर गये। बाइक पर बैठे युवक में बातें होने लगी। इसी दौरान एक युवक ने अपनी कमर से पिस्तौल निकाली और छोटू के सिर में गोली मार दी। गोली लगते ही वह गिर गया। इधर गोली मारने वाला बाइक पर बैठा और दोनों यारपुर रोड की ओर निकल भागे।

ससुराल से अकेले निकला था छोटू : दो दिन पहले छोटू ससुराल आया था। मंगलवार की सुबह घर जाने के लिए बाइक से अकेले ही ससुराल से निकला था। पेशे से वह चालक था और किराये की गाड़ी चलाता था। घर लौटने के दौरान ही अपराधियों ने उसे निशाना बना लिया।

दो माह में ही उजड़ गया पिंकी का सुहाग : महज दो महीने में ही पिंकी का सुहाग उजड़ गया। तेल्हाड़ा थाना क्षेत्र के पुरा गांव निवासी वजीर पासवान की पुत्री पिंकी कुमारी की शादी दो माह पहले छोटू के साथ हुई थी। पति के साथ अनहोनी की खबर सुनते ही पिंकी अस्पताल पहुंची, जहां हकीकत देख बेहोश हो गयी। साथ रहे परिवारवालों के प्रयास से पिंकी होश में आयी। चीत्कार मारकर रो रही पिंकी की आंखों से निकल रहे आंसू को देख मौजूद लोग कुछ बोल पाने की स्थिति में नहीं थे।

छोटू की हत्या का कारण ‘लूट या ‘रंजिश

डाईवर धर्मेन्द्र कुमार उर्फ छोटू की हत्या किसी रंजिश का फलाफल है या फिर लूट के दौरान उसकी हत्या की गयी। प्रत्यक्षदर्शियों की माने तो जिन दो अपराधियों ने हत्या की वह छोटू की बाइक पर ही सवार होकर राढ़िल छिलका की तरफ से आये। वहां रुकते ही गोली मारने के बाद दोनों युवक बाइक लेकर फरार हो गये। जबकि ससुराल वाले बताते हैं कि छोटू अकेले ही बाइक से अपने घर जाने के लिए निकले थे। अब अहम सवाल यह है कि छोटू की बाइक पर हत्यारे कैसे सवार हुए। ऐसी स्थिति में दो ही संभावनाएं उत्पन्न होती हैं। पहली यह कि अपराधी छोटू का नजदीकी था और साजिश के तहत उसकी हत्या की गयी। दूसरी यह कि अपराधियों की मंशा बाइक लूट की थी। यात्री के वेश में रहे दोनों अपराधी बाइक रुकवा कर छोटू से लिफ्ट मांगा होगा। छोटू द्वारा ट्रिपल लोडिंग चलाने में दिक्कत की बात कहने पर अपराधियों में एक ने हैंडिल संभाल ली और छोटू को बीच में तथा अपने साथी को पीछे बैठाकर चल दिया। सुनसान जगह देखकर अपराधियों ने बाइक रोकी और छोटू को गोली मारने के बाद बाइक लेकर फरार हो गये। लोगों के मन में घूम रहे इन सवालों को सुलझाने में पुलिस जुट गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: nalanda: in daylight The young man of fatuha was shot dead in hilsa