nalanda Attack on police station after babychild death - नालंदा में बच्ची की मौत के बाद थाने पर हमला DA Image
7 दिसंबर, 2019|3:39|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नालंदा में बच्ची की मौत के बाद थाने पर हमला

नालंदा में बच्ची की मौत के बाद थाने पर हमला

1 / 3हिलसा थाना क्षेत्र के हिलसा-फतुहा मार्ग पर खाकीबाबा चौक के पास सोमवार की सुबह अनियंत्रित ट्रैक्टर ने स्कूल जा रहीं 3 सगी बहनों को कुचल...

नालंदा में बच्ची की मौत के बाद थाने पर हमला

2 / 3हिलसा थाना क्षेत्र के हिलसा-फतुहा मार्ग पर खाकीबाबा चौक के पास सोमवार की सुबह अनियंत्रित ट्रैक्टर ने स्कूल जा रहीं 3 सगी बहनों को कुचल...

नालंदा में बच्ची की मौत के बाद थाने पर हमला

3 / 3हिलसा थाना क्षेत्र के हिलसा-फतुहा मार्ग पर खाकीबाबा चौक के पास सोमवार की सुबह अनियंत्रित ट्रैक्टर ने स्कूल जा रहीं 3 सगी बहनों को कुचल...

PreviousNext

हिलसा थाना क्षेत्र के हिलसा-फतुहा मार्ग पर खाकीबाबा चौक के पास सोमवार की सुबह अनियंत्रित ट्रैक्टर ने स्कूल जा रहीं 3 सगी बहनों को कुचल दिया। हादसे में वेलवाबाग मोहल्ला निवासी विनय कुमार की पुत्री 8 वर्षीय निशु कुमारी की मौत हो गयी। वहीं अंशु व रिशु जख्मी हो गयीं। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया और थाने ले आयी। जानकारी पाकर पहुंचे सैकड़ों लोग खाकीबाबा पुल के पास सड़क जाम कर हंगामा करने लगे। पुलिस समझाने गयी तो पथराव कर दिया। पथराव में आधा दर्जन राहगीर चोटिल हो गये। इसके बाद शव को लेने के लिए ग्रामीणों ने थाना पर हमला कर दिया। डीएसपी से हाथापाई की। मजबूरन पुलिस को शव लौटाना पड़ा। नाराज लोगों ने शव लेकर फिर से घंटों सड़क जाम कर दिया। ट्रैक पर आग जलाकर ट्रेन को रोक दिया। हटिया एक्सप्रेस एक घंटे ट्रैक पर खड़ी रही। परिजन को मुआवजा दिये जाने के बाद लोगों ने सड़क जाम हटाया। करीब 5 घंटे तक हिलसा में अफरातफरी मची रही।मिडिल स्कूल में पढ़ने जा रहीं थी बच्चियां:तीनों बच्चियां मिडिल स्कूल में पढ़ने जा रही थीं। सड़क पार करने के दौरान फतुहा की ओर से आ रहे ट्रैक्टर ने तीनों को कुचल दिया। हादसे में निशु गंभीर रूप से जख्मी हो गयी। अंशु और रिशु भी चोटिल हो गयी। स्थानीय लोग निशु को लेकर अस्पताल पहुंचे। वहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना पाकर पहुंची पुलिस शव को कब्जे में लेकर थाना पहुंच गयी। इधर, हादसे की खबर सुनकर कई मोहल्ले व गांव के लोग वहां पहुंचकर हंगामा करने लगे।पुलिस पर पथराव:हंगामे की सूचना पाकर थानाध्यक्ष प्रेमराज चौहान कुछ जवानों के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने समझाने का प्रयास किया तो लोग आक्रोशित होकर रोड़ेबाजी करने लगे। यह देखकर पुलिस पीछे हट गयी। रोड़ेबाजी से भगदड़ मच गयी। कई लोग पथराव में जख्मी हुए। पुलिस के पीछे हटते ही लोगों का मनोबल बढ़ गया और उन्होंने थाने पर धावा बोल दिया। मेनगेट को तोड़ने का प्रयास किया गया। अधिकारियों ने कुछ लोगों को थाने में बुलाकर बात करने की कोशिश की। लेकिन, लोग नहीं माने और डीएसपी मुत्तफिक अहमद से उलझ गये। गुस्से में पुलिस ने शव लोगों के हवाले कर दिया।शव के साथ सड़क जाम:शव लेकर लोग खाकीबाबा पुल पहुंचे और फिर से रोड को जाम कर दिया। लोग नारेबाजी करते हुये मुआवजे की मांग करने लगे। फतुहा-इस्लामपुर रेल लाइन के इक्कीस नंबर गेट के पास आग जलाकर ट्रेन को रोक दी गयी। एक्सप्रेस और सवारी गाड़ी घंटे भर से अधिक समय तक खड़ी रहीं। कुछ देर में काफी संख्या में पुलिस के जवान अधिकारियों के साथ पहुंच गये। बुद्धिजीवियों की पहल पर परिजन को मुआवजे के रूप में 4 लाख का चेक और 20 हजार रुपये नकद दिये गये। इसके बाद लोग शांत हुए। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:nalanda Attack on police station after babychild death