ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News बिहार बिहारशरीफनगर निगम के 389.6 करोड़ के बजट को 28 को मिलेगा अनुमोदन

नगर निगम के 389.6 करोड़ के बजट को 28 को मिलेगा अनुमोदन

नगर निगम के 389.6 करोड़ के बजट को 28 को मिलेगा अनुमोदननगर निगम के 389.6 करोड़ के बजट को 28 को मिलेगा अनुमोदननगर निगम के 389.6 करोड़ के बजट को 28 को मिलेगा अनुमोदननगर निगम के 389.6 करोड़ के बजट को 28...

नगर निगम के 389.6 करोड़ के बजट को 28 को मिलेगा अनुमोदन
हिन्दुस्तान टीम,बिहारशरीफSat, 24 Feb 2024 10:30 PM
ऐप पर पढ़ें

नगर निगम के 389.6 करोड़ के बजट को 28 को मिलेगा अनुमोदन
वित्तीय साल 2024-25 में 159.34 करोड़ रुपये आय का बनाया बजट

फोटो:

नगर निगम : नगर निगम प्रशासनिक भवन।

बिहारशरीफ, निज प्रतिनिधि।

वित्तीय साल 2024-25 के लिए नगर निगम ने 389.6 करोड़ रुपये का बजट बनाया है। प्री-बजट बैठक के बाद अनुमोदन बैठक 28 फरवरी को होगी। उस दिन नगर निगम बोर्ड की बैठक में अनुमोदन के लिए पार्षदों के बीच बजट रखा जाएगा। सदस्यों की अनुमति के बाद बजट को पारित समझा जाएगा। संभव है कि उसमें सुधार का प्रस्ताव लाया जाये।

निगम द्वारा वित्तीय वर्ष 2024-25 साल में 159.34 करोड़ रुपये का आय तो 139.91 करोड़ व्यय का प्रावधान किया गया है। अनुमान लगाया गया है कि केंद्र व राज्य सरकारों द्वारा 128.66 करोड़ रुपये अनुदान के रूप में प्रमाप्त होंगे।

बजट में कुछ संशोधन के लिए दिये गये हैं सुझाव:

अगले वित्तीय साल के बजट को नगर निगम द्वारा 7 फरवरी को हुई बोर्ड की बैठक में पेश किया गया था। बजट के महत्ववूर्ण तथ्यों से सभी को नगर आयुक्त शेखर आनंद ने अवगत कराया था। पार्षदों से कहा गया था कि बजट के के प्रावधानों में संशोधन की आवश्यकता है तो लिखित रूप से अपनी राय दे सकते हैं। दिये गये सुझावों के अनुसार संशोधन कर अगली बैठक में बजट को अनुमोदन के लिए रखा जायेगा। जानकारी के अनुसार कुछ सदस्यों ने राजस्व में बढ़ोत्तरी करने, नामांतारण, नक्शा स्वीकृति की प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने व नालों में पॉलीथिन फेंकने वालों पर जुर्माना का प्रावधान करने का सुझाव दिया है।

विभिन्न टैक्सों से 20 करोड़ रुपये प्राप्ति का लक्ष्य:

नये वित्तीय साल में नगर निगम की स्वयं की आय के तहत विभिन्न स्त्रोतों से 20 करोड़ रुपये प्राप्त होंगे। इनमें होल्डिंग टैक्स से नौ करोड़ रुपये वसूली का लक्ष्य तय किया गया है। निबंधन विभाग के तहत शहरी क्षेत्र की जमीनों की खरीद-बिक्री के स्टॉप शुल्क से छह करोड़ रुपये प्मराप्त होंगे। सड़क किनारे की अस्थायी दुकानों, वाहनों, सैरातों से 2.86 करोड़ रुपये, कचरा प्रबंधन से 2.20 करोड़ रुपये आय का लक्ष्य नगर निगम ने रखा है। होर्डिंग-बैनर व विज्ञापन से 10 लाख रुपये की आय होने की संभावना है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें