ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार बिहारशरीफ शिक्षा बजट 2024-25 : प्रारंभिक स्कूलों के विकास पर 716 लाख तो प्लस-टू के विकास पर खर्च होंगे 1060 लाख

शिक्षा बजट 2024-25 : प्रारंभिक स्कूलों के विकास पर 716 लाख तो प्लस-टू के विकास पर खर्च होंगे 1060 लाख

शिक्षा बजट 2024-25 : प्रारंभिक स्कूलों के विकास पर 716 लाख तो प्लस-टू के विकास पर खर्च होंगे 1060 लाख शिक्षा बजट 2024-25 : प्रारंभिक स्कूलों के विकास पर 716 लाख तो प्लस-टू के विकास पर खर्च होंगे 1060...


शिक्षा बजट 2024-25 : प्रारंभिक स्कूलों के विकास पर 716 लाख तो प्लस-टू के विकास पर खर्च होंगे 1060 लाख
हिन्दुस्तान टीम,बिहारशरीफSat, 11 May 2024 10:00 PM
ऐप पर पढ़ें

हिन्दुस्तान एक्सक्लूसिव:
शिक्षा बजट 2024-25 : प्रारंभिक स्कूलों के विकास पर 716 लाख तो प्लस-टू के विकास पर खर्च होंगे 1060 लाख

9 प्रारंभिक स्कूलों में अतिरिक्त कक्ष, 31 में बालक तो 26 में बालिका शौचालय का होगा निर्माण

95 स्कूलों में फर्नीचर की खरीदारी तो 25 स्कूलों के जर्जर शौचालयों की होगी मरम्मत

35 प्लस टू-स्कूलों में 57 नये कमरों के निर्माण पर खर्च होंगे 889 लाख

प्लस-टू स्कूलों में छात्रों के लिए 27 तो छात्राओं के लिए 29 में बनेंगे नये शौचालय

फोटो :

डीईओ ऑफिस : जिला शिक्षा कार्यालय का भवन।

बिहारशरीफ, हिन्दुस्तान संवाददाता।

जिले में दो हजार 384 सरकारी स्कूल संचालित हैं। इनमें मूलभूत सुविधाएं बहाल करने के लिए वित्तीय सत्र 2024-25 के शिक्षा बजट में कई प्रावधान किये हैं। प्रारंभिक स्कूलों को सुविधाओं से लैस करने पर 716 लाख तो 99 प्लस-टू स्कूलों के विकास पर 1060 लाख रुपये स्वीकृत किये गये हैं। विभागीय बजट के अनुसार नौ प्रारंभिक स्कूलों में अतिरिक्त वर्ग कक्ष यानि नये कमरे बनाये जाएंगे। हर कमरा के निर्माण पर 12.97 लाख रुपये खर्च किये जाएंगे। इसी तरह, 31 स्कूलों में छात्रों के लिए नये शौचालय तो 26 स्कूलों में छात्राओं के लिए एक-एक यूनिट शौचालय का निर्माण कराया जाएगा। हर शौचालय के निर्माण पर 2.38 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे।

इसी तरह, 25 स्कूलों के जर्जर शौचालयों की मरम्मत करायी जाएगी। हर शौचालय की मरम्मत पर 68 हजार रुपये खर्च किये जाएंगे। 95 स्कूलों में फर्नीचर की खरीदारी पर 299 लाख रुपये खर्च करने का प्रावधान किया गया है। जिले के 35 प्लस-टू स्कूलों में 57 यूनिट अतिरिक्त वर्ग कक्षों के निर्माण पर खर्च 889 लाख रुपये खर्च किये जाएंगे। इस पर 73.47 लाख रुपये खर्च करने का प्रावधान किया गया है। इसी तरह, 27 प्लस-टू हाईस्कूलों में छात्रों के लिए 31 नये शौचालय तो बालिकाओं के लिए 29 स्कूलों में 32 नये शौचालयों के निर्माण पर 96.24 लाख रुपये खर्च किये जाएंगे। आठ प्लस-टू स्कूलों में पेयजल की व्यवस्था पर आठ लाख रुपये खर्च होंगे।

इन प्रारंभिक स्कूलों में बनेंगे अतिरिक्त वर्ग कक्ष :

बेन प्रखंड के मखदूमपुर प्राइमरी, बिहारशरीफ के उर्दू मध्य विद्यालय बनौलिया, उर्दू प्राइमरी पक्की तालाब, उर्दू मध्य विद्यालय बड़ी दरगाह, चंडी के सालेहपुर, नूरसराय के दाउदपुर राजगीर के अंडवव व गोरौर मध्य विद्यालय।

इन प्रारंभिक स्कूलों में बनेगें छात्रों के लिए शौचालय :

नेरूत, जंघारो, शहरी, अलौदिया सराय, मेघी, पचौरी, पलटपुरा, पावा, उपरावां, खासगंज, इमादपुर, बनौलिया, पलनी, गोविंदपुर, कमलबिगहा, अमनावां, अकुरी टोला, इस्लामपुर (शिशु कल्याण) बुद्धनगर, मकरौता, सकरौढ़ा, बरडीह, पपरनौसा, सिरनावां, अंडवस, उर्दू मध्य विद्यालय मेयार, पथरौरा, फतेपुर, लोहियानगर, झुलनबिगहा, बुनियादी स्कूल बड़ी छरियारी।

इन प्लस-टू स्कूलों में बनेगें अतिरिक्त वर्ग कक्ष :

आंट, गंगटी, दीपनगर-कोरई, पावा, रानाबिगहा, सकरौल, ओकनावां, एसएस गर्ल्स सेकेंडरी, पीएल साहु, छबिलापुर, जवाहर कन्या हाईस्कूल, नालंदा कॉलेजिएट, चंडी बापू हाईस्कूल, चंडी प्रोजेक्ट, तुलसीगढ़, खुशहालपुर, तारापुर, तेल्हाड़ा, इसुआ, चिकसौरा, हिलसा आरबी, मई हाईस्कूल, विशुनपुर-लोहंडा, बेशवक, ढेकवाहा-सरैया, गर्ल्स हाईस्कूल कोरावां, मौलानाचक, चंडासी, परवलपुर, दोसुत, लहुआर, रासबिहारी हाईस्कूल, श्रीगांधी सिलाव, अस्ता हाईस्कूल।

इन प्लस-टू स्कूलों में होगी पेयजल की व्यवस्था :

एकसारा, गंगटी, बदरवाली-शेखपुरा, चंडी प्रोजेक्ट, नेहुसा, ढेकवाहा-सरैया, लहुआर व लोदीपुर

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।