DA Image
Sunday, December 5, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ बिहार बिहारशरीफमारपीट व डोली पड़ाव हटाने के विरोध में किया प्रदर्शन :

मारपीट व डोली पड़ाव हटाने के विरोध में किया प्रदर्शन :

हिन्दुस्तान टीम,बिहारशरीफNewswrap
Wed, 27 Oct 2021 09:51 PM
मारपीट व डोली पड़ाव हटाने के विरोध में किया प्रदर्शन :

मारपीट व डोली पड़ाव हटाने के विरोध में किया प्रदर्शन :

तीन दिनों से राजगीर में है डोली बंद, कर रहे विरोध :

हाथों में तख्ती लेकर धर्मशाला प्रबंधक को गिरफ्तार करने की लगायी गुहार :

फोटो :

27राजगीर02 : राजगीर की सनातन धर्मशाला के पास डोली पड़ाव के निकट हाथों में तख्ती लेकर विरोध प्रदर्शन करते डोली पर्यटक मित्र।

राजगीर। निज संवाददाता

पर्यटक नगरी के डोली पर्यटक मित्रों के साथ मारपीट करने व डोली पड़ाव को हटाने के विरोध में बुधवार को डोली यूनियन ने शहर के धर्मशाला रोड के पास विरोध प्रदर्शन किया। तीन दिनों से पर्यटक नगरी में डोली हड़ताल है। यूनियन के अध्यक्ष कृष्ण प्रसाद चन्द्रवंशी ने कहा कि सनातन धर्मशाला के प्रबंधक के गुर्गों द्वारा डोली पड़ाव को जबरन हटाया जा रहा है।

डोली रखने पर वे शनिवार की शाम को प्रबंधक के द्वारा भेजे गये असामाजिक तत्वों ने यूनियन के सदस्यों को पीटा और डोली हटाने को कहा। लोगों को जान मारने की धमकी दी जा रही है। इसकी शिकायत करने के बाद भी अब तक पुलिस द्वारा उक्त अपराधी को नहीं गिरफ्तार किया गया। डोली यूनियन के सदस्यों ने सनातन धर्मशाला के प्रबंधक अशीष कुमार जैन को गिरफ्तार करने का नारा लगाया और कहा कि पुलिस उसे गिरफ्तार करे। उन्होंने कहा कि प्रबंधक पूरी धर्मशाला को दुकान बनाकर बेचा जा रहा है।

अंचल की मिलीभगत से इसे हटाने की साजिश रच रहा है। उन्होंने कहा कि जिस समय सनातन धर्मशाला का निर्माण हुआ था उस समय नौलखा मंदिर रोड ही उसका मुख्य द्वार था। इसके पहले से ही यहां पर डोली रखते चला आ रहा है। कृष्ण प्रसाद चन्द्रवंशी ने कहा कि यहां का डोली पड़ाव काफी पुराना है। यहां की डोली काफी प्रसिद्ध है। महासचिव नंदलाल कुमार ने कहा कि डोली जिसे पालकी भी कहते हैं यह राजगीर महोत्सव की शान हुआ करती है। वहीं वैसे जैन व बौद्ध पर्यटक जो पहाड़ों पर पैदल जाने में असमर्थ हैं उन्हें डोली वाले अपने कंधों पर लेकर उसे पहाड़ों तक सुरिक्षत पहुंचाते हैं।

जान जोखिम में लेकर भी हमलोग पर्यटकों को सुरक्षित उन्हें मंदिरों का दर्शन कराते हैं। उन्होंने प्रशासन के वरीय अधिकारियों से गुहार लगायी कि प्रशासन सनातन धर्मशाला के प्रबंधक को गिरफ्तार करे और डोली पड़ाव को सुरक्षित करवाये। इस मौके पर महासचिव नंद लाल कुमार, उपाध्यक्ष मुन्ना प्रसाद, कोषाध्यक्ष कमलेश प्रसाद सहित सैंकड़ों डोली पर्यटक मित्र प्रदर्शन में शामिल हुए।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें