ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार बिहारशरीफहिलसा में कोरोना विस्फोट : 200 के पार हुई संक्रमितों की संख्या

हिलसा में कोरोना विस्फोट : 200 के पार हुई संक्रमितों की संख्या

हिलसा में कोरोना विस्फोट : 200 के पार हुई संक्रमितों की संख्याहिलसा में कोरोना विस्फोट : 200 के पार हुई संक्रमितों की संख्याहिलसा में कोरोना विस्फोट : 200 के पार हुई संक्रमितों की संख्याहिलसा में...

हिलसा में कोरोना विस्फोट : 200 के पार हुई संक्रमितों की संख्या
हिन्दुस्तान टीम,बिहारशरीफTue, 27 Apr 2021 08:11 PM
ऐप पर पढ़ें

हिलसा में कोरोना विस्फोट : 200 के पार हुई संक्रमितों की संख्या

दो हजार 435 लोगों की हुई जांच में मिले 235 संक्रमित

महज एक हफ्ते में ही मिल गए कोरोना के 153 मरीज

सात अप्रैल से शुरू हुआ संक्रमितों की संख्या बढ़ने का सिलसिला

जांच में औसत 10 फीसदी लोग मिल रहे कोरोना संक्रमित

अबतक कोरोना से हो चुकी है आधा दर्जन लोगों की मौत

फोटो-

27सीकेहिलसा01 : हिलसा सब्जी मंडी में कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ाते लोग।

हिलसा। निज संवाददाता

महामारी का रूप ले चुका कोरोना हिलसा में विस्फोटक स्थिति में आ गया है। इसकी प्रचंडता कहर ढा रही है। कोरोना मरीजों की संख्या 200 के पार कर हो चुकी है। इसमें 125 वैसे संक्रमित हैं जिनकी जांच पिछले हफ्ते हुई। अबतक हुई जांच में 10 फीसदी लोग कोरोना संक्रमित पाए जा रहे हैं। पुलिस-प्रशासन द्वारा कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए कई तरह के अभियान चलाए जाने के बाद भी लोग सचेत होने के बजाए लापरवाही बरतने से बाज नहीं आ रहे हैं। यही कारण है कि हिलसा में कोराना विस्फोटक स्थिति में पहुंच गया। अबतक हिलसा के शहरी एवं ग्रामीण इलाके के दो हजार 435 लोगों ने कोरोना टेस्ट कराया है। टेस्ट कराने वालों में से 235 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए।

कोरोना की दूसरी लहर को लेकर पिछले सात मार्च से ही जांच शुरू कर दी गयी थी। मार्च में हुई 506 की जांच में सिर्फ दो लोग ही कोरोना संक्रमित पाए गए थे। सात अप्रैल से शुरू हुई कोरोना संक्रमितों की बढ़ने का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। सिर्फ पिछले आठ दिनों में हुई जांच में 153 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए।

किसी को विशेष इलाज की जरूरत नहीं:

अनुमंडलीय अस्पताल के स्वास्थ्य प्रबंधक संजय कुमार की मानें तो सात मार्च से 26 अप्रैल तक एक हजार 718 लोगों की हुई जांच में 199 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। प्राथमिक स्वास्थ्य उपकेन्द्र के स्वास्थ्य प्रबंधक पुष्पा कुमारी ने बताया कि 16 से 26 अप्रैल के बीच कई गांवों एवं सेंटरों पर 717 लोगों की जांच हुई। उनमें 36 लोग कोराना संक्रमित पाए गए। कोरोना संक्रमितों में से किसी को विशेष इलाज के लिए भर्ती नहीं किया गया। बल्कि, इलाज संबंधी सुझाव देते हुए होम आइसोलेशन में रहने की हिदायत दी गयी।

चुपके-चुपके करा रहे इलाज:

चर्चा है कि ऐसे संक्रमितों में से कई की तबीयत अचानक बिगड़ जाने पर परिवार के लोग चुपके से बेहतर इलाज के लिए पटना तथा आसपास के निजी क्लिनिक में ले गए। इसमें से करीब आधा दर्जन से अधिक संक्रमितों की मौत भी हो चुकी है। इसमें से मियांबिगहा की एक महिला और विद्यापुरी के एक पुरुष की मौत पिछले दिनों हुई। इसके अलावा कई संक्रमितों के वेंटिलेटर पर होने की चर्चा है। बहरहाल जो भी हो लोग अगर सावधानी नहीं बरतेंगे तो हिलसा में कोरोना मरीजों की संख्या दिन-प्रति-दिन बढ़ती जाएगी।

सड़कों पर रेलमपेल भीड़:

हिलसा शहर में हर सुबह रेलमपेल भीड़ होती है। शहर के रामबाबू हाईस्कूल मोड़, वरुणतल चौराहा, बिहारी रोड और योगीपुर मोड़ में रोजाना ऐसा दृश्य बनता है। सबसे अधिक भीड़ रामबाबू हाईस्कूल और वरुणतल चौराहा के निकट रहती है। इनमें से रामबाबू हाईस्कूल मोड़ के निकट हॉलसेल तो वरुणतल के निकट खुदरा सब्जी मंडी को लेकर रहता है।