DA Image
16 जनवरी, 2021|1:28|IST

अगली स्टोरी

पूजा-पाठ से करेंगे नववर्ष की शुरुआत

default image

कटिहार | हिन्दुस्तान प्रतिनिधि

जिले के लोग शुक्रवार को नववर्ष की शुरुआत मंदिरों में पूजा-पाठ से करेंगे। इसके बाद घरवालों और दोस्तों के साथ जश्न मनाएंगे। एक-दूसरे को बधाई संदेश देंगे। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन करेंगे। लोगों ने नए साल को मनाने को लेकर कार्यक्रम भी तय कर लिया है।

वे लोग स्थानीय कालीबाड़ी मंदिर, सार्वजनिक दुर्गामंदिर, गोरखनाथ धाम, बटेश्वर स्थान, सहजा कालीमंदिर सहित आसपास के जिले के मंदिरों में जाकर पूजा-पाठ करेंगे। अयोध्यागंज बाजार के मनोज कुमार ने बताया कि नववर्ष की शुरुआत स्थानीय वैष्णवी देवी मंदिर में पूजा पाठ से होगी। इसके बाद दोस्तों के साथ गंगा कोसी संगम स्थल जाकर पिकनिक का आनंद लेंगे। एमजी रोड के प्रकाश कुमार अग्रवाल ने बताया कि नववर्ष का शुरुआत महर्षि मेंहीं आश्रम कुप्पाघाट जाकर संतमत के वर्तमान आचार्य महर्षि हरिनंदन जी महाराज से आर्शिवाद लेकर करेंगे। जबकि यमुना फ्लावर मिल के समीप रहनेवाले संजय यादव ने बताया कि जिले का कालीबाड़ी मंदिर में स्थापित माता काली की पूजा अर्चना तांत्रिक पद्धति से करने के बाद ही अपने परिजनों के साथ घर पर ही रहकर नये साल का स्वागत किया जायेगा। उधर सार्वजनिक वैष्णवी मंदिर के आचार्य अंजनी कुमार ठाकुर ने बताया कि इस वर्ष कोरोना के कारण पश्चिम बंगाल, नेपाल एवं झारखंड के अधिकांश श्रद्धालु नहीं पहुंच रहे हैं। जबकि शहर के बड़ी दुर्गास्थान पूजा समित के सदस्यों ने बताया कि नववर्ष के अवसर पर भी श्रद्धालुओं को अपने चेहरे पर मास्क लगाकर आने की अनुमति रहेगी। मिनी बाबाधाम के नाम से प्रसिद्ध आजमनगर प्रखंड के बाबा गोरखनाथ धाम के प्रबंध समिति के सदस्यों ने आम श्रद्धालुओं से आग्रह किया है कि मास्क का प्रयोग अनिवार्य रुप से करें। होटल प्रबंधक भी जुटे नववर्ष की तैयारी में नये साल के स्वागत की तैयारी में इन दिनों जिले के विभिन्न होटलों के प्रबंधक भी जुट गये हैं। शहीद चौक स्थित एक होटल के प्रबंधक संजय कुमार चौधरी ने बताया कि गुरुवार एवं शुक्रवार को रेस्टोरेन्ट में खाने पर दस प्रतिशत की छूट दी जा रही है। वहीं डॉ. आरपीपथ स्थित न्यू मार्केट के एक होटल के प्रबंधक बबलू कुमार ने बताया कि उसके होटल में नववर्ष के लिए उम्दा मीनू बनाया गया है। साथ ही ग्राहकों के लिए ऑफर भी रखा जा रहा है। शहर के मिरचाईबाड़ी स्थित एक होटल के मालिक प्रेम राय ने बताया कि इस बार नए साल के लिए होटल को आकर्षक ढंग से सजाया गया है। ताकि आनेवाले आकर्षित हो जाये। जबकि समाहरणालय रोड स्थित नवनिर्मित बाल उद्यान की साफ-सफाई जिला प्रशासन की देखरेख में करायी गई है। ताकि उस दिन आकर बच्चे उद्यान का आनंद ले सके। जिला मुख्यालय से लेकर प्रखंडों के लोग नववर्ष पर झारखंड के देवघर एवं बाबा वासुकीनाथ धाम के अलावा पश्चिम बंगाल के तारापीठ में पूजा अर्चना करने के लिए गुरुवार को ही रवाना हो गये। इस बार ट्रेन सुविधा नहीं रहने के कारण अधिकांश लोग अपने-अपने चार चक्का वाहनों के साथ परिवार के सदस्यों को साथ लेकर तथा अपने दोस्तों के साथ उक्त मंदिरों में पूजा अर्चना करने एवं उसके बाद नववर्ष का जश्न मनाने के लिए निकल चुके हैं। उल्लेखनीय है कि वर्ष 2020 का कालखंड हर मायने में लोगों के जीवन में उथल पुथल के नाम से याद रखा जायेगा। कोरोना संक्रमण एवं बचाव को लेकर लगाये गये लॉकडाउन के बीच गुजरे 10 माह पीड़ादायक बना रहा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Will start new year with the worship