DA Image
26 अक्तूबर, 2020|7:38|IST

अगली स्टोरी

सहरसा में ट्रेन परिचालन सुधारने के लिए तीन रेललाइनों का किया जाएगा विस्तार 

good news  rail electrification work started between saharsa and garh baruari

सहरसा स्टेशन के यार्ड से सर्वा ढाला से आगे तक तीन रेललाइनों का विस्तार किया जाएगा। रेललाइनों के विस्तार के लिए 1192 मीटर दूरी में पटरी बिछाकर ट्रैक लिंकिंग का काम किया जाएगा।

लाइन चालू होने पर वाशिंग पिट और आउटर के पास ट्रेन को रोककर स्टेशन पर प्लेस कराने के लिए जगह बनाने की समस्या दूर होने की उम्मीद है। सहरसा की ट्रेनों (मालगाड़ी सहित) का रैक रखने के लिए जगह बन जाएगी। ट्रेन परिचालन सुधरने का फायदा हजारों रेल यात्रियों को होगा। 

समस्तीपुर मंडल के डीआरएम अशोक माहेश्वरी के निर्देश पर रेललाइनों का विस्तार करने की कवायद तेज हो गई है। मंगलवार को एडीईएन मनोज कुमार और एक्सईएन वाचस्पति उपाध्याय ने यार्ड में स्थित रेललाइन नंबर 12 को 11 से मिलाने के लिए ले आउट करवाया। लाइन नंबर 12 को 11 से मिलाने के लिए 292 मीटर दूरी में पटरी बिछाई जाएगी। पटरी बिछाने और लिंकिंग करने के काम से पहले एक संट लाइन सिग्नल और चार लोकेशन सिग्नल बॉक्स को हटाकर शिफ्ट किया जाएगा। आरई का मास्ट हटेगा। बताया जा रहा है कि एएसटीई संजीव कुमार ने सिग्नल बॉक्स हटवाने के लिए एक्सईएन से कर्मी की मांग की है। इस लाइन को बिछाने का काम रेल निर्माण विभाग करेगा।

उधर रेल इंजीनियरिंग विभाग की देखरेख में वाशिंग पिट पास आरई बिल्डिंग समीप से सर्वा ढाला तक 300 मीटर पटरी बिछाई जाएगी। 300 मीटर पटरी विस्तार से रेललाइन की लंबाई बढ़कर 700 मीटर हो जाएगी। सर्वा ढाला से आगे पूरब 200 मीटर की रेललाइन 500 मीटर विस्तार के बाद 700 मीटर की हो जाएगी।
 
संटिंग लाइन के लिए टेंडर फाइनल एक करोड़ से बिछेगी लाइन
रेल इंजीनियरिंग विभाग ने संटिंग लाइन के विस्तार के लिए टेंडर फाइनल कर दिया है। बेगूसराय की एक एजेंसी को एक करोड़ की लागत से होने वाला काम करना है। बताया जा रहा है कि इसी महीने 25 दिसंबर तक काम शुरू हो जाएगा। विभाग की कोशिश रहेगी कि जनवरी 2020 के अंतिम या फरवरी में यह काम पूरा हो जाय। 

लाइन नंबर 11 पर भी आने जाने लगेगी पूर्णिया रूट की ट्रेनें
लाइन नंबर 11 को 12 से जोड़ दिए जाने के बाद पूर्णिया रूट की ट्रेनें लाइन 11 पर भी आने जाने लगेगी। इस लाइन से पूर्णिया, मानसी और सुपौल तीनों रूट के लिए ट्रेनें चलेगी। अन्य ट्रैक पर भार कम होने से लाइन क्लियर होने का फायदा यह होगा कि लाइन खाली होने की वजह से ट्रेनें आउटर या हॉल्ट स्टेशन पर रोकी नहीं जाएगी। ट्रेनें समय से आएगी और जाएगी। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Three rail lines will be expanded to improve train operations in Saharsa