DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सबौर में गुस्साये लोगों ने पीएसएस कार्यालय में किया प्रदर्शन

सबौर विद्युत उपकेन्द्र से जुड़े शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में सुचारू रूप से बिजली आपूर्ति नहीं होने के कराण पूरे प्रखंड में अंधेरा छाया है। इससे ग्रामीण परेशान हैं। लोग रतजगा को मजबूर हैं। गुस्साये लोगों ने गुरुवार को स्थानीय पीएसएस में प्रर्दशन किया।पिछले पांच दिनों से सबौर के शहरी क्षेत्रों को 24 घंटे के अंतराल में मात्र चार घंटे ही बिजली मिल पा रही थी। बुधवार की देर रात से वो भी गायब है। इससे गुस्साये करीब 100 की संख्या में लोग पीएसएस पहुंच कर अधिकारियों से बात करनी चाही पर मौके पर कोई भी अधिकारी मौजूद नहीं थे। लोगों का कहना था कि जब शहरी क्षेत्र का ट्रांसफार्मर ठीक है तो शहरी क्षेत्र की बिजली क्यूं काटी जा रही है। इस बाबत कंपनी के अधिकारियों ने कहा कि पांच एमवीए का ट्रांसफार्मर खराब हो चुका है बदलने की परिक्रिया चल रही है। रोटेशन के अधार पर बिजली दी जा रही है। उधर बैजलपुर, परधड़ी, शंकरपुर, फरका, चंधेरी आदि के ग्रामीणों ने बिजली कंपनी पर आरोप लगाते कहा कि पिछले पांच दिनों से उन्हें एक घंटे भी बिजली नहीं मिली है। प्रदर्शन के दौरान रालोसपा के जिलाध्यक्ष दीपक वर्मा ने बताया कि अर्बन क्षेत्र की लाईन चालू कर दी गई है पर ठीक एक घंटे बाद फिर बंद कर दी गई। स्थानीय जिला कांग्रेस कमेटी के सचिव सुजीत कुमार झा ने बताया कि ग्रामीणों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: The angry people in Sabour performed in the PSS office