DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सनसनीखेज! मां की मौत का बदला लेने के लिए नाबालिग ने दोस्त संग मिलकर बच्चे को गला घोंट मार डाला

 sensational in bhagalpur  in order to take revenge for death of mother two minors friend killed chi

भागलपुर के घोघा में मां की मौत का बदला लेने के लिए नाबालिग लड़के ने अपने दोस्त के साथ मिलकर 10 साल के बच्चे को गला घोंट मार डाला। इस सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा तब हुआ जब पुलिस ने लापता बच्चे की तलाश के दौरान शक के आधार पर इदमादपुर निवासी के एक 16 वर्षीय और दूसरा 15 वर्षीय किशोर को थाने बुलाया। दोनों नाबालिगों ने सुधांशु की हत्या की बात स्वीकारी।

दरअसल भागलपुर के घोघा में इदमादपुर फुलकिया निवासी सुशील मंडल का 10 वर्षीय बेटा सुधांशु कुमार शु्क्रवार 14 जून से लापता था। घर वाले उसे ढूंढ रहे थे। सुधांशु के पिता सुशील कुमार गांव और अपने रिश्तेदारों के यहां कर रहे थे। हालांकि उनका आरोप था कि उनके बेटे को गांव के ही दो नाबालिग अपने साथ लेकर कहीं गया था। इस बात को लेकर गांव के बड़े लोगों से गुहार लगाई थी। गांव के बड़े बुजुर्ग के लगातार दबाव बनाने के बाद दोनों नाबालिग ने  सुधांशु कुमार को साथ ले जाने की बात कबूली और बताया हमने इसे साहेबगंज ले जाकर छोड़ दिया है। कल जाकर उसे वापस ले आऊंगा। अगले दिनभर गायब रहने बाद एक दिन की मोहलत मांगी। ग्रामीणों ने उसे बीते सोमवार को अंतिम चेतावनी देते हुए शाम तक सुधांशु को वापस लाने नहीं तो अंजाम भुगतने की चेतावनी दी। बच्चे को नहीं लाने पर अगले दिन मंगलवार की सुबह ग्रामीण और सुधांशु के पिता सुशील कुमार घोघा थाना में गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखायी। इसके बाद पुलिस ने तुरंत कार्रवाई शुरू की। पुलिस ने शक के आधार पर दोनों नाबालिग को थाने बुलाया। जहां दोनों ने सुधांशु की हत्या की बात स्वीकारी।

घोघा पुलिस ने दोनों की स्वीकारोक्ति पर घोघा के पन्नूचक के समीप मंगलवार को ईंट निर्माण क्षेत्र से सटे एक झाड़ी से 10 वर्षीय सुधांशु की क्षत-विक्षत लाश घोघा पुलिस ने बरामद की। 

पहले नाश्ता कराया फिर गले में रस्सी डाल कर मार दिया
नाबालिग हत्यारोपियों के अनुसार बीते शुक्रवार 14 जून को उन दोनों में से एक ने सुधांशु को घर से बुलाया और गोलसड़क पर एक दुकान में साथ-साथ नाश्ता किया। नाश्ता करने में रात हो गई, तब दोनों गोलसड़क से घर की ओर पैदल रास्ता बदल कर गए, जहां पहले से उसका दूसरा साथी बैठा था। घटनास्थल पहुंचते ही उसने गले में रस्सी डालकर सुधांशु की हत्या कर दी और लाश झाड़ी में फेंक दी।

मां की हुई मौत का बदला लिया, ग्रामीण हतप्रभ 
दोनों नाबालिगों में एक ने कहा की हमने मां की हुई मौत का बदला लिया है। उसने कहा कि मेरी मां की मौत चार साल पहले हुई थी, जिसका आरोप उसने सुधांशु की मां पर लगाया। दोनों नाबालिगों की सुधांशु से गहरी मित्रता थी। इस प्रकार नाबालिग बच्चों द्वारा बालक की हत्या करने जैसी घटना से सभी लोग हतप्रभ हैं। लोगों को विश्वास नहीं हो पा रहा है की ऐसा भी हो सकता है।

इस संबंध में घोघा थाना प्रभारी शंभू कुमार पासवान ने बताया की मामले का खुलासा कर लिया गया है। बच्चे की हत्या और लाश बरामद मामले में कुछ भी छुपा नहीं है। बच्चे का हत्यारा दो नाबालिग है। अभी दोनों पुलिस अभिरक्षा में हैं। लाश को पोस्टमार्टम के लिए भागलपुर भेज दिया गया है।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Sensational in Bhagalpur: In order to take revenge for death of mother two minors friend killed child in Ghogha