ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News बिहार भागलपुरसहरसा: मारपीट के दौरान गयी थी युवक की जान

सहरसा: मारपीट के दौरान गयी थी युवक की जान

सत्तर कटैया, एक संवाददाता। छिपा रेलवे ढ़ाला के समीप रेल ट्रैक पर दो टुकड़ों...

सहरसा: मारपीट के दौरान गयी थी युवक की जान
हिन्दुस्तान टीम,भागलपुरMon, 13 Nov 2023 05:45 PM
ऐप पर पढ़ें

सत्तर कटैया, एक संवाददाता। छिपा रेलवे ढ़ाला के समीप रेल ट्रैक पर दो टुकड़ों में मिले युवक के शव की पहचान विशनपुर गांव निवासी देवानंद यादव के पुत्र संदिल कुमार के रूप में हुई है। इधर इस घटना के बाद पीड़ित पिता ने अपने पुत्र की हत्या करने का आरोप लगाया है। बताया जाता है कि रेल ट्रैक पर संदील की लाश मिलने के बाद विशनपुर में पीड़ित के घर लोगों की भीड़ जुट गई। इस घटना के बाद तरह-तरह की चर्चायें होने लगी कि आखिर रात को वह युवक छिपा रेलवे ट्रैक पर क्या करने गया था जिसमें उसकी इस तरह रेल से कटकर विभत्स मौत हो गई। पीड़ित पिता द्वारा गांव के लोगों को बताया गया कि चित्ती भतरंधा के दो युवक घटना के दिन रात को घर आया और मेरे पुत्र को आवाज देकर अपने गांव बाइक से ले गया। सुत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मधेपुरा जिले के परमानन्दपुर ओपी क्षेत्र में खेत में जहां बाइक मिला वहीं पंचगछिया स्टेशन से दक्षिण छिपा रेलवे ढ़ाला के समीप रेल पटरी पर दो टुकड़ों में संदील की लाश मिली थी। पीड़ित पिता के द्वारा दी गई इस जानकारी के बाद परिवार के सदस्य सहित अन्य कुछ लोग चित्ती भतरंधा पहुंचकर साथ लेकर गये दोनों युवक को पकड़कर मारपीट करते हुये पुछताछ कर ही रही थी लेकिन उसी बीच परमानन्दपुर ओपी को इस तरह की घटना की जानकारी मिल गयी। पुलिस को जैसे ही भीड़ द्वारा मारपीट किये जाने की जानकारी मिली उसी तरह पुलिस बल वहां पहुंचकर भीड़ से दोनों युवक को निकालकर थाना लाया और बिहरा थाना पुलिस को सारी जानकारी दी। बिहरा थाना पुलिस परमानन्दपुर ओपी पहुंचकर दोनों युवक को थाना लाया और गहन पुछताछ की। पुलिस सुत्रों के अनुसार चित्ती भतरंधा के कुछ युवकों के साथ खान पान के बाद मारपीट की घटना घटी जिसके बाद संदील के साथ बेरहमी से पिटाई की गई और अधमरे अवस्था में उसे रात को कुछ लोगों के सहयोग के साथ छिपा रेलवे ढ़ाला के पूर्वी भाग वाले पटरी पर लेटा दिया ताकि रेल गुजरने के दौरान वह युवक कट जाय और यह घटना रेल से कटकर मौत के मामले में उलझकर दब जाय। बताया जाता है कि परमानन्दपुर ओपी द्वारा सौंपे गये दो युवक के निशानदेही पर बिहरा थाना पुलिस द्वारा दो और युवक को हिरासत में लिया गया है। इधर पीड़ित पिता के द्वारा इस संबंध में अपने पुत्र की हत्या कर देने संबंधी दिये गये आवेदन के आलोक में रिपोर्ट दर्ज कर समुचित कार्रवाई की जा रही है। इस संबंध में पुछने पर बिहरा थानाध्यक्ष रौशन कुमार ने बताया कि पीड़ित पिता के आवेदन के आलोक में पुलिस ने छापेमारी कर मधेपुरा जिले के परमानन्दपुर ओपी क्षेत्र के भतरंधा निवासी बिन्देश्वरी के पुत्र शत्रुघ्न यादव एवं उमेश पोद्दार के पुत्र प्रकाश कुमार तथा मधेपुरा जिले के घैलाढ़ थाना क्षेत्र के शैलेन्द्र कुमार के पुत्र मनीष कुमार तथा बिहरा थाना क्षेत्र के विशनपुर गांव निवासी उपेंद्र यादव के पुत्र शैलेंद्र कुमार को गिरफ्तार किया। गिरफ्तारी के बाद आवश्यक पुछताछ करते हुये चारों को सहरसा न्यायालय भेज दिया गया है। थानाध्यक्ष ने बताया कि इस घटना में पुलिस हर बिन्दु को ध्यान में रखकर गहन छानबीन कर रही है। इधर घर से बुलाकर संदील की इस तरह हत्या कर देने की घटना को लेकर आमलोगों के बीच तलह-तरह की चर्चायें हो रही है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।