Saharsa rail revenue tripled due to migrating passengers - सहरसा का रेल राजस्व अचानक तीन गुना बढ़ गया, जानें असल वजह DA Image
19 नबम्बर, 2019|12:42|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सहरसा का रेल राजस्व अचानक तीन गुना बढ़ गया, जानें असल वजह

saharsa rail revenue tripled due to migrating passengers

सहरसा में रेलवे का राजस्व अचानक बढ़ गया है। दरअसल पलायन करने वाले यात्रियों की भीड़ बढ़ते ही सहरसा स्टेशन का रेल राजस्व तीन गुना अधिक बढ़ गया है। जनसेवा एक्सप्रेस के बनमनखी से चलने के कारण वहां के रेल राजस्व में भी इजाफा आया है।

बनमनखी नहीं जाकर जिस दिन जनसेवा एक्सप्रेस सहरसा स्टेशन से खुली उस 11 अक्टूबर को सबसे अधिक 20 हजार टिकट बिक्री से 48 लाख रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ। उसके बाद 12 अक्टूबर को 17 हजार यात्रियों ने टिकट कटाए जिससे 24 लाख रुपये राजस्व प्राप्त हुआ। इससे पहले 10 अक्टूबर को 10 हजार 500 टिकट बिक्री से 14 लाख 50 हजार रुपये प्राप्त हुए। वहीं बनमनखी स्टेशन पर सबसे अधिक 12 अक्टूबर को 7543 यात्रियों ने टिकट कटाए जिससे 16 लाख 31 हजार 255 रुपये राजस्व प्राप्त हुआ। इससे पहले 11 अक्टूबर को 6004 यात्रियों के टिकट कटाने से 9 लाख 67 हजार और 10 अक्टूबर को 6182 टिकट बिक्री से 10 लाख 76 हजार 845 रुपये राजस्व मिला। सहरसा में जब स्थिति सामान्य थी तब 9 अक्टूबर को 10 हजार टिकट बिक्री से 13 लाख 50 हजार रुपये राजस्व मिले। बनमनखी में 9 अक्टूबर को 4727 यात्रियों के टिकट कटाने से 13 लाख 90 हजार 895 रुपये राजस्व मिले। 

तीन दिन में सहरसा स्टेशन का रेल राजस्व 86 लाख के पार : महज तीन दिन 10 से 12 अक्टूबर तक सहरसा स्टेशन के टिकट व जेटीबीएस काउंटरों पर 47 हजार 500 यात्रियों ने टिकट कटाए। जिससे 86 लाख 50 हजार रुपये प्राप्त हुए। वहीं बनमनखी स्टेशन के टिकट काउंटरों पर दस से 12 अक्टूबर तक 19 हजार 729 टिकट बिक्री से 36 लाख 75 हजार 100 रुपये राजस्व प्राप्त हुआ। 

वाशिंग पिट पर ही मजदूर यात्रियों से ठसाठस हो गई स्पेशल ट्रेन
रोजगार की तलाश में पलायन कर परदेश कमाने जा रहे यात्रियों की भीड़ से रविवार को अमृतसर जाने वाली स्पेशल ट्रेन वाशिंग पिट पर ही ठसाठस भर गई। इससे पहले रोज चलने वाली जनसेवा एक्सप्रेस की बोगियों में क्षमता से अधिक मजदूर यात्री भरे थे। हजारों की संख्या में हो रही मजदूर यात्रियों की भीड़ के कारण ट्रेनों में जगह अभी भी कम पड़ रही है। और भी स्पेशल ट्रेन चलाने की जरूरत है। क्योंकि अभी भी स्टेशन पर पंजाब जाने वाले मजदूर यात्रियों की भीड़ लगी ही है। समस्तीपुर से सीनियर डीसीएम वीरेन्द्र कुमार पल पल की जानकारी लेते मॉनिटरिंग कर रहे हैं। वहीं सहरसा के टिकट काउंटरों पर यात्रियों को कोई परेशानी नहीं हो इसकी मॉनिटरिंग डीसीआई राजेश रंजन श्रीवास्तव कर रहे हैं। भीड़ को देखकर ही बनमनखी स्टेशन पर सीनियर डीसीएम के निर्देश पर एक अतिरिक्त टिकट काउंटर खोला गया है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Saharsa rail revenue tripled due to migrating passengers