DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सर्दी के साथ बढ़ेगा इन बीमारियों का खतरा, दिल के रोगी रहें सतर्क, बीपी रखें कंट्रोल

Cold wave in North India as mercury continues to dip

दिन ढलने के बाद ठंड का एहसास बढ़ने लगा है। मौसम विभाग ने अगले तीन दिन तक इसी तरह के मौसम रहने की भविष्यवाणी की है। मौसम विभाग का कहना है कि आठ एवं नौ दिसंबर को सुबह में कोहरा होने की संभावना है। 

वहीं डॉक्टर के अनुसार इस मौसम में बुजुर्ग व बच्चों को बेहद सतर्क रहने की जरूरत है। चिकित्सकों की मानें तो ठंड के मौसम में दिल के रोगी सतर्क रहें। साथ ही जिन लोगों को बीपी की शिकायत है वे अपने बीपी पर निगाह रखें। इस मौसम में बच्चों को निमोनिया, सर्दी, खांसी बुखार, ब्रोंकाइटिस तो बुजुर्गों को हार्ट अटैक, ब्रेन स्ट्रोक का खतरा रहता है। ऐसे मरीज अभी अस्पतालों में ज्यादा भर्ती हो रहे हैं।
 
ठंड में सिकुड़ने लगती है दिल की धमनियां 
मायागंज अस्पताल के मेडिसिन विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. हेमशंकर शर्मा ने कहा कि ठंड के दौरान हमारा शरीर गर्म होने के लिए अतिरिक्त कार्य तो करता है, लेकिन इस दौरान हृदय की धमनियों में कोलेस्ट्राल जमने से इसके संकुचित होने की आशंका होती है। ऐसे में हृदय रोगियों को इस मौसम में बहुत ही सतर्क रहने की जरूरत है।

अगर बीपी की शिकायत हो तो जान लें इस मौसम में सिस्टोलिक 130 तक ठीक है, लेकिन इससे आगे बढ़े तो सतर्क हो जायें और चिकित्सक से तत्काल संपर्क करें। युवा अगर घर से बाइक से निकलें तो शरीर को गर्म कपड़ों व कान को टोपी से ढंके। ज्यादा ठंड होने पर सुबह टहलने से बुजुर्ग परहेज करें। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:risk of diseases will increase with cold and heart patient keep BP control