DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   बिहार  ›  भागलपुर  ›  रेलवे का फरमान, ड्यूटी अवधि में ट्रेन ऑपरेशन से जुड़े रेलकर्मी नहीं करें स्मार्टफोन का इस्तेमाल

भागलपुररेलवे का फरमान, ड्यूटी अवधि में ट्रेन ऑपरेशन से जुड़े रेलकर्मी नहीं करें स्मार्टफोन का इस्तेमाल

सहरसा, रंजीत Published By: Sunil
Sat, 25 May 2019 07:28 PM
रेलवे का फरमान, ड्यूटी अवधि में ट्रेन ऑपरेशन से जुड़े रेलकर्मी नहीं करें स्मार्टफोन का इस्तेमाल

ड्यूटी अवधि में ट्रेन ऑपरेशन से जुड़े रेलकर्मियों के स्मार्टफोन उपयोग पर समस्तीपुर डिवीजन में रोक लगा दी है। स्टेशन मास्टर, एएसएम, गार्ड, चालक से लेकर गेटमैन सहित ट्रेन ऑपरेशन से जुड़े कर्मियों के लिए यह फरमान जारी किया गया है।

समस्तीपुर मंडल के सीनियर डीओएम अमरेश कुमार ने 24 मई को इस संबंध में पत्र जारी कर दिया है। जारी पत्र में सीनियर डीओएम ने कहा है कि ड्यूटी अवधि में ट्रेन ऑपरेशन से जुड़े कोई भी कर्मी स्मार्टफोन का उपयोग नहीं करें। ड्यूटी अवधि में स्मार्टफोन का उपयोग करते ट्रेन ऑपरेशन से जुड़े कर्मियों को पाया गया तो विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

 स्टेशन मास्टर, असिस्टेंट स्टेशन मास्टर(एएसएम), पी मैन, गेटमैन, गार्ड, चालक सहित ट्रेन ऑपरेशन से जुड़े कर्मियों पर ड्यूटी के दौरान विशेष नजर रहेगी कि वे स्मार्टफोन का उपयोग तो नहीं कर रहे। सीनियर डीओएम ने समस्तीपुर मंडल के सहरसा, दरभंगा, नरकटियागंज, मोतिहारी, रक्सौल, सीतामढ़ी, बनमनखी, पूर्णिया कोर्ट से लेकर अन्य स्टेशनों के परिचालन विभाग से जुड़े अधिकारियों को पत्र भेजकर जारी निर्देश का पालन करने के लिए कहा है। 

पत्र मिलते ही रेल कर्मियों में हड़कंप है। बता दें कि 23 मई को समस्तीपुर में एक ही ट्रैक पर दो ट्रेन के आमने सामने आने से टली दुघर्टना के बाद मंडल रेल प्रशासन ने एहतियातन यह निर्णय लिया गया है। बीते गुरुवार को समस्तीपुर रेलवे यार्ड में पीड़ स्थान के पास हावड़ा-रक्सौल एक्सप्रेस और मुजफ्फरपुर-सियालदह पैसेंजर ट्रेन एक ही रेल लाइन पर आमने-सामने हो गई थी। लोगों के द्वारा हल्ला मचाने पर दोनों ट्रेन के चालकों ने आपातकालीन ब्रेक लगाकर ट्रेन रोकते बड़ी दुर्घटना को होने से बचा लिया था। लेकिन लाल सिग्नल को नजरअंदाज करने के मामले में समस्तीपुर मंडल के डीआरएम अशोक माहेश्वरी ने सियालदह सवारी गाड़ी के चालक और उप चालक को निलंबित करते तीन सदस्यीय जांच कमेटी गठित कर दी।

 सूत्रों की मानें तो ट्रेन परिचालन के दौरान सियालदह सवारी गाड़ी के चालक और उप चालक स्मार्टफोन पर लोकसभा चुनाव का परिणाम देखने में शायद मशगूल थे जबतक देखते लाल सिग्नल को ट्रेन पार कर दूसरी ट्रेन के आमने सामने हो गई थी।
 

संबंधित खबरें