DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टीकाकरण के बाद डेढ़ माह के बच्चे की मौत के बाद दूसरे बच्चों के परिजनों में दहशत

terror in many childs parents after child death in vaccination at munger

मुंगेर में संग्रामपुर के रामपुर पंचायत के मनिया कहार टोला में टीकाकरण के बाद बुधवार की सुबह एक डेढ़ माह के बच्चे की मौत हो गयी। खबर फैलते ही बच्चों का टीकाकरण कराने वाले अन्य अभिभावक भी दहशत में आ गये। बच्चों का शरीर तेज बुखार से तप रहा था। खबर मिलते ही स्वास्थ्य महकमा में खलबली मच गयी। पीएचसी से डॉक्टरों की टीम गांव आ पहुंची। सात बच्चों को एंबुलेंस से पीएचसी लाया गया। सभी बच्चे खतरे से बाहर हैं। मृतक बच्चा बंटी राम का पुत्र आयुष कुमार था।

मृतक बच्चे की मां ममता देवी ने बताया कि मंगलवार को मनिया धर्मशाला में टीकाकरण शिविर लगाया गया था। बच्चे को नियमित टीकाकरण के तहत टीका (पेंटावेलेंट) दिया गया। रात में बच्चे को बुखार आ गया और बुधवार की सुबह मौत हो गयी। ममता देवी ने दवा खराब होने की आशंका व्यक्त की है। शिविर में गांव के अन्य बच्चों को भी टीका दिया गया था। एक बच्चे की मौत के बाद अन्य बच्चों के बुखार से पीड़ित रहने पर अभिभावक दहशत में आ गये।

खबर मिलते ही प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सक डॉ. उमा प्रसाद एवं मैनेजर सत्येंद्र प्रसाद गांव पहुंचे। बुखार से पीड़ित बच्चों को स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया। सभी बच्चे खतरे से बाहर हैं। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. उपेन्द्र प्रसाद सिंह ने बताया कि मंगलवार को चार जगहों पर नियमित टीकाकरण शिविर लगाया गया था। 46 बच्चों का टीकाकरण किया गया।

एक को छोड़ कहीं से कोई शिकायत नहीं मिली है। आयुष कुमार की मौत नियमित टीकाकरण के कारण नहीं हुई है अन्य किसी कारण से बच्चे की मौत हुई है। टीका के बाद सामान्य बुखार आता है। एक वाईल से ही 8 बच्चे यहां तक की मृतक बच्चे के भाई डेढ़ वर्षीय अंकुर कुमार को भी टीका दिया गया था, वह स्वस्थ है। आयुष की मौत से मां ममता देवी का रो-रोकर बुरा हाल था। 

ग्रामीणों में आक्रोश
बच्चे की मौत से ग्रामीणों में आक्रोश है। पूर्व मुखिया अभिराम चौधरी ने कहा कि टीकाकरण के बाद बुखार की दवा बच्चों को दी जानी चाहिए थी। उन्होंने सिविल सर्जन से जांच कराने की मांग की। मुखिया प्रतिनिधि अमित चंद्र ने कहा कि तेज बुखार से बच्चों की खराब हो रही हालत को लेकर प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को फोन किया गया लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया। थानाध्यक्ष को जानकारी देने के आधे घंटे बाद डॉक्टर गांव पहुंचे।

बोले सिविल सर्जन
टीकाकरण के बाद एक बच्चे की मौत की खबर मिलने पर संग्रामपुर पीएचसी पहुंचे सिविल सर्जन डॉ. योगेन्द्र प्रसाद भगत ने बताया कि टीका के बाद बुखार आता है। एक वाईल से और भी बच्चों को टीका दिया गया था। एक को छोड़ सभी स्वस्थ हैं। उन्होंने कहा कि बच्चे की मौत किस कारण हुई, इसका पता पोस्टमार्टम रिपोर्ट से चल पाएगा।  

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:one and half months old baby died after vaccination in munger