DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विकास की अनदेखी का आरोप लगा यहां मेयर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस

purnea mayor vibha kumari

विकास की अनदेखी का आरोप लगा मेयर के खिलाफ पार्षद गोलबंद हो गए हैं। यहां लगभग 20 पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए नोटिस पर हस्ताक्षर किए हैं।
 
 26 जून को दो वर्ष का कार्यकाल पूरा कर चुकीं पूर्णिया की मेयर विभा कुमारी के विरुद्ध नगर पालिका अधिनियम 2007 की धारा 25 (4) के अंतर्गत एवं नगर पालिका अविश्वास प्रस्ताव प्रक्रिया नियमावली 2010 के तहत उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया गया है। अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए 16 पार्षदों की जरूरत थी, जबकि आवेदन पर 20 पार्षदों के हस्ताक्षर हैं।

प्रस्ताव के संबंध में मुख्य पार्षद को मंगलवार को दिये गये आवेदन के साथ इसकी प्रतिलिपि जिला पदाधिकारी, नगर आयुक्त और डिप्टी मेयर को दी गई है। नियमानुसार मेयर को अब सात दिनों के अंदर पार्षदों को नोटिस जारी कर बैठक की तारीख तय करनी होगी। 15 दिनों के अंदर बोर्ड की बैठक बुलाकर अविश्वास प्रस्ताव के संबंध में वोटिंग करवानी होगी।  

उधर मेयर विभा कुमारी ने कहा कि पार्षदों द्वारा लगाये गये आरोप बेबुनियाद हैं। उनके हस्ताक्षर की सच्चाई का पता लगाया जायेगा। नगर आयुक्त रामशंकर ने बताया कि अविश्वास प्रस्ताव के संबंध में चिट्ठी मिली है। अब मेयर को सात दिनों में सूचना देकर पार्षदों की 15 दिनों में बैठक बुलानी होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Notice for no confidence motion against mayor of purnea in allegation of ignoring of development